Move to Jagran APP

आरोपी को पकड़ने गई पुलिस को खुद करना पड़ा सरेंडर, सिपाही से हाथ उठवाकर कहलवाया- 'अब गिहार बस्ती नहीं आएंगे'

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में आरोपी को गिरफ्तार करने गई पुलिस को खुद सरेंडर करना पड़ा और सिपाही के सामने से ही आरोपी को छुड़वा लिया गया है। दरअसल परचून की दुकान से सामान लेकर घर जा रहे युवक का कुछ अन्य युवकों से विवाद हो गया। पुलिस ने एक आरोपित को पकड़ लिया लेकिन बाद में महिलाओं ने सिपाही से अभद्रता कर आरोपित को छुड़ा लिया।

By Jagran News Edited By: Abhishek Pandey Thu, 11 Jul 2024 07:44 AM (IST)
महिलाओं ने सिपाही के साथ की अभद्रता

जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद। परचून की दुकान का सामान लेकर घर जा रहे युवक का गिहार बस्ती में कुछ युवकों से साइड देने को लेकर विवाद हो गया। युवकों ने दुकानदार को पीटकर नकदी लूट ली। जब पुलिस जांच करने पहुंची तो पुलिस ने एक आरोपित को पकड़ लिया। महिलाओं ने दबाव बनाकर सिपाही से अभद्रता कर आरोपित को छुड़ा लिया।

महिलाएं सिपाही से बोलीं, हाथ उठाकर कहो अब गिहार बस्ती नहीं आएंगे। यह कहने के बाद सिपाही को जाने दिया। हालांकि बाद में पुलिस ने दूसरे आरोपित को पकड़ लिया। पुलिस जांच में लूट की घटना गलत पाई गई। मारपीट की घटना की पुष्टि हुई है।

युवक पर लूट का आरोप

मोहम्मदाबाद कस्बे के मुहल्ला अंबेडकरनगर निवासी पाल सिंह जाटव के पुत्र अंकित जाटव की परचून की दुकान है। बुधवार सुबह अंकित दुकान का सामान खरीदकर बाइक से घर जा रहे थे। गिहार बस्ती तकीपुर के मोड़ पर आठ-दस युवक खड़े थे। अंकित ने साइड मांगी तो युवक उससे विवाद करने लगे। मामला बढ़ने पर अंकित की पिटाई कर दी गई। अंकित की सूचना पर पहुंचे अनुपम को भी पीट दिया। अंकित ने 20 हजार रुपये और चेन लूटने का आरोप लगाया।

दोपहर 12:40 बजे प्रभारी निरीक्षक मनोज भाटी फोर्स लेकर गिहार बस्ती दबिश देने पहुंचे। पुलिस ने एक आरोपित को पकड़कर सिपाही अंशुमन को सौंपकर गिहार बस्ती के बाहर खड़ी जीप में बैठाने को कहा। इसके बाद पुलिस अन्य घरों में पहुंची। तभी महिलाओं ने सिपाही अंशुमन को घेर लिया और अभद्रता कर सिपाही से आरोपित को छुड़ा लिया।

महिलाओं ने सिपाही से कराया सरेंडर

महिलाओं ने सिपाही से सरेंडर कराकर बोलीं अब आगे इस बस्ती में मत आना। यह शब्द कहलाने के बाद सिपाही को जाने दिया गया। इसकी जानकारी जब अन्य पुलिस कर्मियों को हुई तो पुलिस ने दूसरे आरोपित को पकड़कर कोतवाली ले आई।

प्रभारी निरीक्षक मनोज भाटी ने बताया कि दोनों पक्षों से घटना के संबंध में पूछताछ की गई। अंकित ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि गिहार बस्ती के कुछ युवक मारपीट कर लूटपाट करते हैं। उसके साथ भी मारपीट करते हैं। इसलिए उसने लूट की गलत सूचना दी थी। ताकि आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि जांच में मामला मारपीट का पाया गया है।

इसे भी पढ़ें: स्टेशन से पहले अचानक रुकी ट्रेन, रेलवे टीम ने शुरू कर दी चेकिंग; कूदकर झाड़ियों से भागे यात्री- कई पकड़े गए