संवाद सहयोगी, कायमगंज : डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस का 'भारत बंद'पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद के गृह क्षेत्र कायमगंज में पूरी तरह विफल रहा। बंद के बाबत न किसी कांग्रेस नेता या कार्यकर्ता ने आह्वान किया और न ही कोई प्रयास। इससे नगर का बाजार पूरी तरह खुला रहा। इस दौरान कांग्रेस पार्टी का कोई कार्यक्रम में नहीं हुआ।

बताते चलें कि कायमगंज क्षेत्र में कांग्रेस पार्टी लंबे समय से निष्क्रिय चल रही है। कोई बड़ा कार्यक्रम तो दूर, कोई बैठक तक होने की कोई जानकारी नहीं मिली। नगर कांग्रेस कमेटी का भी कुछ अता पता नहीं है। कांग्रेस के भारत बंद आयोजन के बारे में लोगों को टीवी व समाचार पत्रों से ही जानकारी हुई। जिससे बंद का आयोजन पूरी तरह विफल रहा।

हालांकि पूर्व विदेश मंत्री व कांग्रेस के बड़े नेता सलमान खुर्शीद का गृह क्षेत्र होने के कारण प्रशासन बंद के दौरान यहां बहुत सतर्क रहा। उपजिलाधिकारी अनिल कुमार दोपहर तक कोतवाली में रहकर स्थिति पर नजर बनाए रहे। सीओ कायमगंज अभिषेक राय के अवकाश पर होने के कारण सीओ मोहम्मदाबाद राजवीर ¨सह दोपहर दो बजे तक कायमगंज कोतवाली में रहे। ज्ञापन देकर सपा का धरना समाप्त होने की जानकारी मिलने के बाद अधिकारी कोतवाली से गए। दोपहर तक बंद रहीं दुकानें

मोहम्मदाबाद : अखिल भारतीय असंगठित कामगार कांग्रेस कमेटी के प्रदेश सचिव हरीश कुमार दुबे की अगुवाई में कांग्रेसी नारेबाजी करते हुए निकले और दुकानदारों से भारत बंद में सहयोग करने की अपील की। संकिसा रोड व ताजपुर रोड पर दोपहर तक दुकानें बंद रहीं। बेवर रोड पर मिला जुला असर रहा। राष्ट्रीय कांग्रेस सछ्वावना संगठन के प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार तिवारी के नेतृत्व में जुलूस निकाला गया। खिमसेपुर व नीवकरोरी में भी दोपहर तक बाजार बंद रहा। पंकज गुप्ता, अतुल गुप्ता, इरफान खां मंसूरी आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran