जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : अनुभव प्रमाण पत्र की रिपोर्ट न दिए जाने के मामले में जिला विद्यालय निरीक्षक ने रखा ग‌र्ल्स इंटर फतेहगढ़ की प्रधानाचार्या का वेतन रोकने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट न मिलने तक वेतन जारी नहीं किया जाएगा।

रखा ग‌र्ल्स इंटर कॉलेज फतेहगढ़ की प्रधानाचार्या नीतू मसीह के खिलाफ शैक्षिक, अनुभव प्रमाण पत्र व प्रशिक्षण पत्र फर्जी लगाकर नौकरी हासिल करने की शिकायत की गई थी। जिला विद्यालय निरीक्षक ने जांच शुरू कर कॉलेज प्रबंधक से अनुभव प्रमाण पत्र आदि की सत्यापन रिपोर्ट मांगी थी, लेकिन अभी तक रिपोर्ट प्राप्त नहीं कराई गई है। इस पर जिला विद्यालय निरीक्षक ने प्रधानाचार्या के वेतन पर रोक लगाने के निर्देश दिए हैं। डीआइओएस डॉ. आदर्श त्रिपाठी ने बताया कि अनुभव प्रमाण पत्र की सत्यापन रिपोर्ट बहुत ही आवश्यक है। प्रबंधक ने अभी तक यह रिपोर्ट उपलब्ध नहीं कराई है। इसी को लेकर प्रधानाचार्या नीतू मसीह का वेतन रोका गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही वेतन जारी किया जाएगा। प्रधानाचार्या नीतू मसीह ने बताया कि अभी वह अवकाश पर हैं। उन्हें वेतन रोके जाने की जानकारी तक नहीं है। डीआइओएस ने जो प्रपत्र मांगे थे, वह उपलब्ध कराए जा चुके हैं। डीआइओएस ने प्रबंधक से भी उनके प्रपत्र उपलब्ध कराने को कहा है। अब उन्होंने उपलब्ध कराए या नहीं, यह उन्हें नहीं पता। तीन शिक्षकों का अनुपस्थिति दिनों का वेतन काटा

निरीक्षण के दौरान गैरहाजिर मिले ब्लॉक कमालगंज के तीन शिक्षकों का अनुपस्थित दिनों का वेतन काटने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षाधिकारी ने दिए हैं। बीईओ कमालगंज के निरीक्षण में उच्च प्राथमिक विद्यालय अजीजलपुर के इंचार्ज प्रधानाध्यापक विशाल अग्रवाल व सहायक अध्यापक वीरेंद्र प्रकाश आठ से दस जनवरी व प्राथमिक विद्यालय कालाझाला की सहायक अध्यापिका राजेश्वरी पाल 16 दिसंबर को अनुपस्थित मिली थीं। बीईओ की रिपोर्ट पर बीएसए ने इन शिक्षकों का अनुपस्थित दिनों का वेतन काटने के निर्देश दिए हैं। बीएसए ने बताया कि बीईओ की संस्तुति पर कार्रवाई की गई है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप