अयोध्या, जेएनएन। दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान जिले के भवानी घाट पर डीजे बजने से रोकना पुलिस को महंगा पड़ गया। विसर्जन करने आए ग्रामीणों ने पुलिस पर हमला कर दिया। हमले में दो पुलिसकर्मी गंभीर रुप से घायल हुए हैं। सीएचसी खैरनपुर में प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायल पुलिसकर्मियों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है। 

ये है पूरा मामला 

घटना मवई थानाक्षेत्र के कामाख्या भवानी घाट की है। मंगलवार को यहां पर खंडासा थाना क्षेत्र के अमानीगंज की मूर्ति का विसर्जन हो रहा था। डीजे के साथ पहुंची मूर्ति को देखकर पुलिसकर्मियों ने डीजे को घाट पर जाने से रोक दिया। पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला दिया। इस पर कहासुनी होने लगी। बताया जाता है कि ग्रामीणों ने मिल्कीपुर विधायक का आदेश बताकर घाट डीजे पर ले जाने को अड़ गए। अचानक कुछ ग्रामीणों ने पुलिस पर हमला कर दिया। तीन चार ग्रामीणों ने सिपाही राकेश यादव को उठाकर गोमती में फेंक दिया। किसी तरह उनको निकाला गया। ग्रामीणों के हमले में दो पुलिस कर्मी राकेश यादव व सरोज भारती गंभीर रूप से घायल हुए। सीओ डॉ. धमेंद्र यादव ने बताया कि जांच की जा रही है। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस