अयोध्या : रामनगरी में चल रहे अयोध्या जंक्शन के पुनर्विकास कार्य पर रेलवे बोर्ड के सदस्य (इंफ्रास्ट्रक्चर) संजीव मित्तल ने संतोष व्यक्त किया है। बुधवार को स्टेशन के विकास कार्य का जायजा लेने पहुंचे संजीव मित्तल ने कहाकि रामनगरी में उच्चकोटि की रेल सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। इस दिशा में कार्य शुरू हो चुका है। अयोध्या जंक्शन के प्रथम फेज का कार्य लगभग पूरा होने वाला है। दिसंबर तक प्रथम फेज का कार्य पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है, जिस गति कार्य चल रहा है उसे देखने से लगता है कि लक्ष्य आसानी से प्राप्त कर लिया जाएगा। मंडल रेल प्रबंधक एसके सपरा ने कहाकि अयोध्या जंक्शन की रीमॉडलिग में तीन प्लेटफार्म उच्चीकृत किए जाएंगे। एक नंबर प्लेटफार्म को 625 मीटर लंबा बनाया जाएगा। डीआरएम ने कहाकि मेंटीनेंस का कार्य अब फैजाबाद जंक्शन पर शिफ्ट कर दिया गया है। इस वजह से दूसरे चरण के कार्य को लेकर फिर से पुनरीक्षण किया जा रहा है। उसी के बाद दूसरे चरण में कराए जाने वाले कार्यों की तस्वीर साफ होगी। मुख्य मार्ग के लिए निर्माण सहित स्टेशन के विस्तार के लिए नजूल भूमि की आवश्यकता है। इसे लेकर राज्य सरकार से वार्ता चल रही है।

रेलवे बोर्ड के सदस्य ने अयोध्या जंक्शन पर सांसद लल्लू सिंह के साथ बैठक भी की। सांसद ने रेलवे की ओर से कराए जा रहे विकास कार्यों को समय पर पूरा करने सहित अन्य मुद्दों पर संजीव मित्तल से वार्ता की। रेलवे बोर्ड के सदस्य ने सांसद को अवगत कराया कि योजनाओं को समयबद्ध ढंग से गुणवत्ता के साथ पूरे कराए जाएंगे। रेलवे बोर्ड के सदस्य ने अयोध्या जंक्शन के पुनर्विकास का मॉडल भी देखा। फैजाबाद जंक्शन के पुनर्विकास के बारे में उन्होंने अधिकारियों से वार्ता की।

Edited By: Jagran