अयोध्या: समाजवादी पार्टी में अभी विधानसभा चुनाव के टिकट की तस्वीर साफ नहीं हुई है। बीकापुर सीट से टिकट के दावेदारों में एक नाम बलराम मौर्य का और बढ़ गया। बलराम पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के नजदीकी हैं। उनके साथ ही समाजवादी पार्टी में समर्थकों के साथ लखनऊ में शामिल हुए। रविवार को ढेर सारे समर्थकों के साथ गुलाबबाड़ी स्थित पार्टी कार्यालय में पहुंचने पर पूर्व मंत्री तेजनारायण पांडेय पवन एवं जिलाध्यक्ष गंगासिंह यादव ने पार्टी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं के साथ माला पहनाकर स्वागत किया। बलराम मौर्य ने जागरण से कहा, बीकापुर सीट से उनकी दावेदारी सपा में शामिल होने के बावजूद भी कायम है। बोले, टिकट मांगना अधिकार है, उसे देना पार्टी नेतृत्व का क्षेत्राधिकार। समाजवादी पार्टी में चल रही जोर आजमाइश के बीच राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव कोरोना संक्रमण से बचाव की नसीहत देकर सभी को वापस घर जाने की सलाह दे चुके हैं। लखनऊ में टिकट के लिए कैंप किए दावेदार राष्ट्रीय अध्यक्ष की सलाह के बाद मनमसोस कर घर वापस हो चुके हैं। गोसाईंगज, रुदौली एवं बीकापुर सीट के लिए जोर आजमाइश तेज है। अयोध्या सीट से तेजनारायण पवन एवं मिल्कीपुर (सुरक्षित) सीट से पूर्व मंत्री अवधेश प्रसाद का टिकट लगभग तय है। गोसाईंगंज सीट से भी पूर्व विधायक अभय सिंह का भी टिकट लगभग तय है। पूर्व एमएलसी तिलकराम वर्मा एवं इंद्रपाल यादव टिकट की दौड़ में जरूर शामिल है। पार्टी में ज्यादातर का मानना है कि टिकट अभय सिंह को ही मिलेगा। बीकापुर व रुदौली सीट का टिकट फंसा हुआ है। आनंदसेन यादव की दावेदारी की राह में पार्टी के ही राघवेंद्र प्रताप सिंह अनूप ही मुश्किल खड़ा किए हुए हैं। अब इसमें बलराम मौर्य का नाम भी जुड़ा है। फिरोज खां गब्बर के नाम की गूंज पार्टी के लोगों में अब कम होती दिख रही है। रुदौली सीट से पूर्व विधायक अब्बास अली जैदी के अलावा 10 से अधिक टिकट के दावेदार हैं।

--------------------

बलराम मौर्य का स्वागत

भाजपा से आए बलराम मौर्य का सपा कार्यालय में कार्यकर्ताओं ने माला पहनाकर स्वागत किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता सपा जिलाध्यक्ष व संचालन महानगर महासचिव हामिद जाफर मीसम ने किया।

Edited By: Jagran