अयोध्या: रामनगरी में चल रहे लगभग 80 फीसद कार्य पूरे हो चुके हैं। मंडलायुक्त एमपी अग्रवाल की समीक्षा बैठक में यह जानकारी कार्यदायी संस्थाओं ने दी। कान्हा गोशाला के निर्माण में ठेकेदार एवं विभागीय अधिकारियों की खराब प्रगति पर नाराजगी जताते हुए ठेकेदार को काली सूची में डालने का निर्देश दिया। मंडलायुक्त श्रीराम जन्मभूमि के आसपास निर्माणाधीन विकास कार्यों के साथ अन्य निर्माण कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। कमिश्नर ने कहाकि जो कार्य 80 फीसद पूरे हो चुके हैं, प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण करा कर उनके लोकार्पण कराने की तैयारी करें। सुस्ती वाले कार्यों में तेजी लाने के लिए निर्देशित किया। मंडलायुक्त के अनुसार मुख्य सचिव ने श्रीराम जन्मभूमि के साथ उसके आसपास के कार्यों की समीक्षा में गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने को कहा। श्रीराम जन्मभूमि के आसपास सड़क निर्माण, पेयजल व सीवरेज संबंधी कार्य के साथ मार्गों के सुंदरीकरण व घाटों की मरम्मत के कार्य शुरू है। नगर निगम, जल निगम, सिचाई, पर्यटन,लोक निर्माण, संस्कृति विभाग व पुलिस विभाग के महत्वपूर्ण कार्य शामिल हैं।

बैठक में गुप्तारघाट, क्वीन हो मेमोरियल पार्क, रामायण सर्किट थीम, भजन संध्या स्थल, पुलिस ट्रांजिट हॉस्टल, सांस्कृतिक मंच, कल्चरल स्टेज, आडिटोरियम, इंटीग्रेटेड ट्रैफिक कंट्रोल सिस्टम, कान्हा गोशाला, राजद्वार पार्क के निर्माण कार्यों के साथ-साथ भरतकुंड के सुंदरीकरण समेत 72 परियोजनाओं की समीक्षा शामिल रही। डीएम ने किया नए भवन का लोकार्पण

जिलाधिकारी अनुजकुमार झा ने कोषागार भवन के ऊपर निर्मित अतिथि गृह का लोकार्पण किया। लोकार्पण में अपर निदेशक कोषागार एवं पेंशन नीरज श्रीवास्तव, मुख्य कोषाधिकारी अनुराग गुप्त, एडीएम (वित्त एवं राजस्व) गोरेलाल शुक्ल, एडीएम (सिटी) डॉ. वैभव शर्मा, वित्त एवं लेखाधिकारी माध्यमिक शिक्षा वीरेशकुमार, लेखाधिकारी बेसिक शिक्षा रविद्र सिंह के अलावा कोषागार के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

Edited By: Jagran