फैजाबाद (जेएनएन)। प्रभारी मंत्री सतीश महाना ने अयोध्या में चल रहे विकास कार्यों की डेडलाइन तय कर दी। उन्होंने दीपोत्सव के पूर्व 15 अक्टूबर तक हरहाल में मुख्यमंत्री के शिलान्यास वाले निर्माण कार्य पूरा कर लेने की हिदायत दी। उन्होंने कहाकि  अयोध्या को आदर्श पर्यटन नगरी के रूप में विकसित किया जाना है, धन की कमी नहीं आनी दी जाएगी। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में विकास कार्यों की समीक्षा में उनका फोकस अयोध्या पर रहा।  

जिलाधिकारी डॉ. अनिलकुमार ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय रामलीला केंद्र में  बाउंड्रीवाल, गेट व पार्किंग का कार्य शेष है। अंतर्राष्ट्रीय बस स्टेशन का निर्माण शुरू  न होने की वजह क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी ब्रजपाल सिंह ने बरसात का पानी कार्य स्थल पर भरा होने के जानकारी दी। जिलाधिकारी ने बताया कि भजन संध्या स्थल का निर्माण शुरू है।  अधिशाषी अभियंता विद्युत मनोजकुमार गुप्त ने बताया कि अयोध्या में केबिल अंडरग्राउंड का कार्य 98 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है। बताया गया कि 42 में से 27 ट्रांसफार्मर की लाइन भूमिगत कर दी गई है। 15 ट्रांसफार्मर की लाइन बजट मिलते ही  उसे भी अंंडरग्राउंड कर दिया जाएगा। फेज-दो के विकास कार्य के लिए आठ करोड़ रुपये का बजट मिल गया है। अयोध्या हनुमानगढ़ी के प्रवेश व निकास द्वार, मुंडन स्थल, हनुमानगढ़ी, कनक भवन तक पैदल यात्री मार्ग का नवीनीकरण का कार्य शुरू होने की मंत्री को जानकारी दी गई।  अयोध्या में निर्माणाधीन थीम पार्क में दर्शक दीर्घा, ओपेन एयर थियेटर, रिसेप्सन रूम, टायलेट ब्लॉक, इंटर लाकिंग, स्थल विकास, हैंडपंप, आरसीसी बेंच का कार्य पूर्ण होने के बारे में बताया गया। 

आसरा योजना दीनदयाल निर्बल वर्ग कुष्ठ आश्रम रामघाट हाल्ट में निर्माणाधीन 36 आवास, यात्री विश्राम गृह, सत्संग भवन, यात्री सहायता केंद्र एवं गेट, रामायण सर्किट थीम, रामकथा गैलरी, पंचकोसी परिक्रमा मार्ग, राम की पैड़ी का कार्य, श्रीराम चिकित्सालय अयोध्या में आवासीय भवन का निर्माण, अयोध्या सीवरेज, अमृत योजना, अयोध्या नगर की सीवर संयोजन, अयोध्या गृह पेयजल संयोजन कार्य, अयोध्या पेयजल येाजना फेज-दो की उन्होंने समीक्षा की।  जिले के अन्य क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों की अद्यतन प्रगति के बारे में भी  जानकारी की।

Posted By: Nawal Mishra