अयोध्या: गुरुवार को रामकी पैड़ी पर पूजन के साथ ही दीपोत्सव की तैयारियां आरंभ हो गईं। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रविशंकर सिंह ने भगवान राम का पूजन किया। उन्होंने सरयू में दीपदान भी किया। साथ ही सरयू की आरती भी उतारी। महानवमी पर पूजन कार्यक्रम का संयोजन विवि की ओर से दीपोत्सव के नोडल अधिकारी प्रो. शैलेंद्र कुमार वर्मा ने किया।

कुलपति ने बताया कि इस वर्ष 32 घाटों पर साढ़े सात लाख दीप प्रज्वलित करने लक्ष्य है। इसके लिए नौ लाख दीप बिछाए जाएंगे। इस बार 12 नए घाट दीपोत्सव में शामिल किए गए हैं। विभिन्न महाविद्यालयों, इंटर कॉलेज, स्वयंसेवी संस्थाओं के स्वयंसेवकों की सूची तैयार है। परिचय पत्र बनाए जा रहे हैं। सुरक्षा मानकों पर विशेष ध्यान दिया गया है। उन्होंने बताया कि दीपोत्सव में 12 हजार स्वयंसेवक, 32 पर्यवेक्षक व करीब दो सौ समन्वयक भागीदारी करेंगे। पूजन एवं आरती कार्यक्रम में हनुमानगढ़ी के संत राजूदास, वित्त अधिकारी प्रो. चयन कुमार मिश्र, साकेत महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. अभय सिंह, प्रो. विक्रमा प्रसाद पांडे, कुलानुशासक प्रो. अजय प्रताप सिंह, प्रो. राजीव गौड़, प्रो. विनोद श्रीवास्तव, प्रो. रमापति मिश्र, डॉ. अशोक राय, डॉ. सुरेंद्र मिश्र, डॉ. आशुतोष सिंह, डॉ. सर्वेश वर्मा, डॉ. अजय सिंह, डॉ. शिवांश सिंह, कुलसचिव उमानाथ, आशुतोष सिंह, रमेश मिश्र, परितोष त्रिपाठी, आस्था कुशवाहा, राजीव कुमार, डॉ. महिमा चौरसिया, डॉ. राजेश सिंह कुशवाहा, डॉ. अंकित मिश्र, डॉ. दिलीप कुमार, जनसंपर्क अधिकारी आशीष मिश्र, कर्मचारी परिषद के अध्यक्ष डॉ. राजेश सिंह, डॉ वीरेंद्र वर्मा, केके मिश्रा, ज्ञान प्रकाश चौधरी, रविद्र मिश्रा, शिवनारायण मिश्रा, कृषभानु सिंह, अंकित यादव, आदर्श यादव, ज्ञान प्रकाश तिवारी आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran