संवादसूत्र, महेवा : तहसील प्रशासन ने कब्जे की शिकायत पर पहुंचकर बराउख गांव से कब्जा हटवा दिया। इस संबंध में हाकिम सिंह द्वारा उपजिलाधिकारी चकरनगर से इंडिया मार्का हैंडपंप को एक व्यक्ति द्वारा घेरकर सबमर्सिबल पंप को अपने निजी प्रयोग में लिए जाने की शिकायत की गई थी। लेकिन प्रशासन ने उसकी शिकायत को नजर अंदाज कर उसकी ही जमीन की जांच कर ली और उसे बेदखल कर दिया।

हाकिम सिंह ने बताया कि हैंडपंप पर कब्जा करने वाला लेखपाल का रिश्तेदार है। गांव के आधा दर्जन से अधिक लोग आबादी की भूमि पर कब्जा किए हुए हैं लेकिन प्रशासन ने कार्रवाई केवल उनके ऊपर ही की है। उपजिलाधिकारी चकरनगर ज्योत्स्ना बंधु ने बताया कि शिकायतकर्ता खुद ही सार्वजनिक भूमि पर कब्जा किए हुए था। सरकारी हैंडपंप के कब्जे की शिकायत के बारे में ब्लाक महेवा से रिपोर्ट मांगी गई है। खंड विकास अधिकारी की रिपोर्ट आते ही कार्रवाई की जाएगी।

दहेज प्रताड़ना में आरोपित पति गिरफ्तार

संवाद सहयोगी, सैफई : गांव भटपुरा की रूबी को पति राहुल व सास-ससुर मंशा देवी-कमलेश द्वारा अतिरिक्त दहेज को लेकर मारपीट किए जाने की रिपोर्ट सैफई थाने में 22 मई को पीड़िता के भाई ने दर्ज कराई थी। तभी से आरोपी फरार चल रहे थे। थाना पुलिस ने आरोपित राहुल को मुचेहरा रेलवे अंडरब्रिज के नीचे से गिरफ्तार कर लिया।

चंद्रमुखी निवासी नगला अनूप थाना करहल जिला मैनपुरी ने बताया कि उसने अपनी पुत्री की शादी 2009 में राहुल के साथ की थी। शादी के बाद से ही आरोपित ससुरालीजन अतिरिक्त दहेज की मांग के चलते पुत्री का उत्पीड़न कर रहे थे। इस मामले में कई बार थाना स्तर पर भी शिकायत की जा चुकी है और वर्ष 2014-15 में दहेज उत्पीड़न व अन्य धाराओं में न्यायालय में समझौता हो गया था। पुत्री को 11 मई को ससुर व सास के सहयोग से पति व देवर ने जहर देकर जान से मारने की कोशिश की थी। तब उसको बेहोशी की हालत में सैफई चिकित्सा विश्वविद्यालय में भर्ती कराया गया था। 13 मई व 18 मई को फिर से मारपीट की गई थी।

Edited By: Jagran