मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

इटावा, जेएनएन। तेज रफ्तार का कहर आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर जारी है। दिल्ली से आगरा की तरफ जा रही एक तेज रफ्तार कार सड़क के किनारे खड़े ट्रक में पीछे से घुस गई। जिसके कारण कार सवार चार लोगों ने मौके पर दम तोड़ दिया। एक की हालत गंभीर है।

कार की रफ्तार इतनी तेज थी कि उसका आगे का भाग पिचक गया है। गंभीर रूप से घायल को सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती कराया गया है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर आज हुई दुर्घटना में मृत अरुण सिन्हा वाराणसी में सहायक सांख्यिकी अधिकारी के पद पर तैनात थे।

इटावा के थाना ऊसराहार क्षेत्र के करमपुर कौआ गांव के पास हु्ई इस दुर्घटना में मरने वाले एक ही परिवार के हैं। जिसमें माता-पिता-भाई व चालक की मौके पर ही मौत हो गई है जबकि एक बेटी श्वेता सिन्हा पुत्री अरुण सिन्हा निवासी शिवपुर-वाराणसी गंभीर रूप से घायल है। यह परिवार ऑल्टो कार से दिल्ली से वाराणसी जा रहा था। श्वेता को तत्काल सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी ले जाया गया। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पुलिस ने मौत की सूचना मृतक के परिजनों को दे दी है। घटना की सूचना मिलते ही मृतक के घर में कोहराम मचा हुआ है। मृतकों की पहचान रेखा सिन्हा पत्नी अरुण सिन्हा, अमित सिन्हा पुत्र अरुण सिन्हा, अरुण सिन्हा व चालक रविन्द्र विश्वकर्मा के रूप में हुई है। सिन्हा परिवार शीतलनगर कालोनी चांदमारी शिवपुर वाराणसी का निवासी है।

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप