सेवानिवृत्त फौजी पर हत्या का मुकदमा,तलाश में छापे

जासं, इटावा : शराब की तलब पूरी करने के लिए सोने की चेन न मिलने पर 35 वर्षीय पत्नी सपना की गोलियों से भूनकर हत्या करने वाले सेवानिवृत्त फौजी पति सतीश यादव का घटना के 24 घंटे बाद गुरुवार की देर शाम तक सुराग नहीं लग सका था। वह घटना के बाद से फरार है। उसकी तलाश में पुलिस की दो टीमें संभावित स्थानों पर लगातार दबिश दे रही हैं।

सपना की बहन संगीता पत्नी राकेश निवासी बिधूना औरैया ने गुरुवार की सुबह थाना फ्रेंड्स कालोनी में आरोपित जीजा सतीश यादव के विरुद्ध हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई। पोस्टमार्टम कार्रवाई के बाद शव को औरैया जिले के अछल्दा थाना क्षेत्र के ग्राम पड़ारा बहादुरपुर अंत्येष्टि के लिए सतीश के स्वजन द्वारा ले जाया गया। सतीश मूल रूप से इसी गांव का निवासी है। उसने हाल निवास फ्रेंड्स कालोनी थाना क्षेत्र के न्यू तुलसी नगर में बुधवार की रात पत्नी संगीता की एक के बाद एक तीन गाेलियां दागकर हत्या कर दी थी।

स्वजन के मुताबिक आरोपित सतीश शराब पीने का आदी है। शराब की तलब पूरी करने के लिए अक्सर घर में कलह होती थी। शराब के लिए ही वह पत्नी पर सोने की चेन देने के लिए झगड़ा करता था। बुधवार की रात चेन न मिलने पर वह इतना आग बबूला हो गया कि लाइसेंसी पिस्टल निकाल लाया और एक के बाद एक तीन गोलियां दाग दीं। पड़ोसियों के मुताबिक तीन गोलियां चलने की आवाज सुनी गई थी।

फ्रेंड्स कालोनी थानाध्यक्ष विवेक चौधरी ने बताया कि सपना के कितनी गोली लगी, इसके लिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। आरोपित की गिरफ्तारी के लिए दो टीमों का गठन किया गया है, एक स्वयं उनके नेतृत्व में और दूसरी फ्रेंड्स कालोनी चौकी प्रभारी दयानंद पटेल के नेतृत्व में।

Edited By: Jagran