संवादसूत्र, ऊसराहार : अपर जिलाधिकारी के आदेशों का पालन भी ताखा तहसील में नही हो पा रहा है। अपने चहेते लेखपालों को तबादले के आदेश के एक सप्ताह के करीब बाद भी उपजिलाधिकारी ताखा ने कार्य मुक्त नही किया है यही कारण है कि तबादलों के बाद भी यह लेखपाल तहसील में जमे हुए हैं।

ताखा तहसील में कार्यरत लेखपालों पर लग रहे आरोपों की जांच के बाद अपर जिलाधिकारी जितेन्द्र कुशवाहा ने लेखपाल जगदीश ¨सह का तबादला चकरनगर तहसील में कर दिया था जबकि लेखपाल अनिल यादव का तबादला भरथना तहसील में कर दिया था। अब जबकि तबादला के आदेश को आए हुए एक सप्ताह के करीब का समय बीत चुका है ऐसे में भी तबादला किए लेखपाल किसान सम्मान निधि और बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के काम देख रहे हैं जिस पर लोगों ने हैरानी जताई है। बताया जाता है कि यह लेखपाल अधिकारियों के चहेते बनकर रहते हैं। यही कारण है कि अपर जिलाधिकारी के आदेशों का भी पालन नहीं हो पा रहा है। भाजपा के मंडल अध्यक्ष राहुल राज ¨सह का कहना है कि उन्होंने उपजिलाधिकारी ताखा से इस संबंध में शिकायत दर्ज करायी है। वह जिलाधिकारी से इसकी शिकायत करेंगे। इस संबंध में अपर जिलाधिकारी जितेंद्र कुशवाहा का कहना है लेखपालों के तबादले हुए हैं वह शीघ्र ही कार्य मुक्त किए जाएंगे।

पहुंच के कारण डटे हैं लेखपाल

अपनी पहुंच के कारण लेखपाल अनिल यादव वर्षों से ताखा क्षेत्र में डटे हुए थे। 6 माह पूर्व भी उनका तबादला कर दिया गया था परंतु उनका तबादला उस समय भी रोक दिया गया था। जिसको लेकर भी क्षेत्र में चर्चाएं रही थीं। अब जबकि फिर से उनका तबादला किया गया है परंतु उन्हे कार्य मुक्त नहीं किया गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप