संवाद सूत्र, महेवा : प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ब्लाक महेवा में 482 लाभार्थियों को लाभ मिला जिनके बैंक खातों में धन आ गया, इससे लाभार्थी देश के प्रधानमंत्री का गुणगान करते नजर आए। दूसरी ओर इस क्षेत्र में मनरेगा की स्थिति सबसे अधिक खराब है। इस तथ्य को मुख्य विकास अधिकारी डॉ. राजा गणपति आर. ने औचक निरीक्षण के उपरांत मीडिया के समक्ष प्रकट करते हुए ब्लाक अधिकारियों के प्रति नाराजगी प्रकट की।

गुरुवार अपराह्न ब्लाक मुख्यालय पहुंचे सीडीओ ने संचालित विभिन्न योजनाओं की पत्रावलियां बीडीओ महेवा से तलब करके करीब एक घंटे तक गहनता से देखा। जनता द्वारा की गई शिकायतों के लंबित होने पर उन्होंने कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि ऐसी शिकायतों का निस्तारण तत्परता से किया जाए। उन्होंने ब्लाक की 91 ग्राम पंचायतों में वर्ष 2019-20 तथा 21 में कितनी धनराशि शासन द्वारा प्राप्त कराईं गई और उसको कैसे-कैसे खर्च किया गया जिसका पूरा ब्योरा तलब किया तो महज 23 ग्राम पंचायतों की जानकारी उपलब्ध कराए जाने पर सख्त लहजे में हिदायत दी। बीडीओ सतीश चंद्र पांडेय, एडीओ पंचायत श्याम वरन राजपूत, लेखाकार शरद चंद्र तिवारी आदि मौजूद थे।

फर्जी हस्ताक्षर कर दो लाख से ज्यादा रकम निकाली

संवादसूत्र, महेवा : ब्लाक महेवा क्षेत्र की ग्राम पंचायत पेवली में पूर्व सचिव के फर्जी हस्ताक्षर बनाकर दो लाख से अधिक की धनराशि किसी फर्म को देने का आरोप लगाया गया है। सचिव ने थाना बकेवर में तहरीर दी है।

ग्राम पंचायत पेवली की पूर्व सचिव लक्ष्मी भदौरिया ने बताया कि 23 व 24 दिसंबर 2020 को चेक द्वारा उनके फर्जी हस्ताक्षर बनाकर 2 लाख 5 हजार 20 रुपये का भुगतान अलग-अलग फर्मो में किया गया जबकि वह उन्हें जानती भी नहीं है। बीडीओ सतीश चंद्र पांडेय ने बताया कि मामला संज्ञान में है, एडीओ पंचायत से जांच कराई जाएगी। थाना प्रभारी बकेवर जितेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि प्रार्थना पत्र मिला है जिसकी जांच कराई जा रही है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप