जागरण संवाददाता, इटावा : शासन द्वारा भेजी गई खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग वैन ने रविवार को शहर के कई प्रमुख स्थानों पर जनता को मिलावट से बचने के तरीके सुझाए। इससे पूर्व वैन को जिलाधिकारी जेबी सिंह ने हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। फूड टेक्नीशियन विनोद सिंह व उनके सहायक के साथ अभिहीत अधिकारी खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग एडी पांडेय के नेतृत्व में वैन से स्टेशन बजरिया में आम लोगों को खाद्य पदार्थो में मिलावट से सावधान किया। खाद्य निरीक्षक ओम प्रकाश यादव, मुख्य खाद्य निरीक्षक कमालुद्दीन, जितेन्द्र शर्मा, प्रदीप कुमार, शैलेन्द्र सिंह के साथ वैन ने होमगंज बाजार, बस स्टैंड व भरथना चौराहा सहित कई अन्य स्थानों पर जाकर जनता को जागरूक किया।

खाद्य विभाग की सचलदल वैन ने रेलवे स्टेशन पर 11 नमूनों की जांच की तथा होमगंज में 7 नमूने, बस स्टैंड पर 4 तथा भरथना चौराहा पर 9 नमूने चेक कर व्यापारियों को मिलावट का तरीका जांचना सिखाया। इन बातों का रखें ध्यान

उन्हीं दुकानों से खाद्य पदार्थों का क्रय करें जिनके पास खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन हो।

खुले में रखे गए खाद्य पदार्थों को कभी न खरीदें, जिन पर धूल पड़ रही हो मक्खियां आदि विद्यमान हों।

कोई भी खाद्य पदार्थ छपे कागज जैसे अखबार आदि पर कभी न रखें व कभी खाएं।

शीतल पेय, अन्य पेय पदार्थ व अन्य पैक्ड खाद्य पदार्थ लेते समय उनकी पैकिग तिथि व इस्तेमाल करने की तिथि अवश्य देखें।

निर्माता का नाम व पता, बैच नंबर आदि अवश्य देख कर लें।

बहुत सस्ते खाद्य पदार्थों को खरीदने से बचें, क्योंकि इनमें मिलावट हो सकती है।

सरसों का तेल, वनस्पति रिफाइंड तेल, ब्रांडेड तेल व देशी घी कभी भी खुली अवस्था में न खरीदें।

पिसे मसाले भी खुले न खरीदे पैकिट वाले ही प्रयोग करें।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस