जागरण संवाददाता, एटा: विद्युत विभाग द्वारा कराए जा रहे कामकाज की समीक्षा के लिए कलक्ट्रेट सभाकक्ष में बैठक बुलाई गई,जिसमें बिजली से वंचित गांवों में जल्द से जल्द आपूर्ति पहुंचाने पर जोर दिया गया।

डीएम अमित किशोर ने कहा कि विद्युत परियोजनाओं को समय से गुणवत्ता के साथ पूरा किया जाए। विद्युतीकरण के तहत सभी मजरों में निर्धारित समय सीमा के अंदर कार्य पूरा करें। किसी भी मजरे से समय से काम पूरा नहीं होने या अन्य किसी तरह की शिकायत नहीं आनी चाहिए। ऐसा होता है तो संबंधित कार्यदायी संस्था को ब्लैक लिस्टेड कर दिया जाएगा। जिन क्षेत्रों में नए विद्युत पोल लगाए जा रहे हैं, उनको मानक के अनुरूप जमीन में गहरा गड्ढा खोदकर लगाया जाए। इसमें किसी तरह की कमी या शिकायत की स्थिति उत्पन्न नहीं होनी चाहिए। सौभाग्य योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार कराएं। साथ ही घर-घर में विद्युत आपूर्ति पहुंचाने का कार्य पूरी पारदर्शिता के साथ किया जाए। कार्य में शिथिलता बरतने वाले जेई, एसडीओ की सूची उपलब्ध कराएं, जिससे उन पर कार्रवाई की जा सके। बैठक के दौरान प्रदर्शनी में विद्युत व्यवस्थाओं को लेकर चर्चा की गई। डीएम ने कहा कि 19 जनवरी से शुरू हो रही प्रदर्शनी में बिजली संबंधी किसी तरह की समस्या नहीं आनी चाहिए। बैठक में अधीक्षण अभियंता एसके जैन, अधिशासी अभियंता ग्रामीण क्षेत्र सोपाली ¨सह आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran