एटा, जागरण संवाददाता: प्रशासन, पुलिस और नगर पालिका की टीमों ने मंगलवार को शहर में बड़ी कार्रवाई की। घंटाघर मार्केट स्थित दो स्टॉकिस्ट पर छापा मार 5.10 कुंतल प्रतिबंधित पॉलीथिन जब्त कर ली। इन दोनों पर 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा शहर में विभिन्न स्थानों पर पांच व्यापारियों पर भी पॉलीथिन रखने पर जुर्माना लगाया गया है।

उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिगल यूज प्लास्टिक के विरुद्ध 2 अक्टूबर से अभियान छेड़ने का आह्वान किया। इधर इससे पहले ही प्लास्टिक के खिलाफ कार्रवाई का अभियान शुरू कर दिया गया है। बीते दिन जहां अलीगंज में पॉलीथिन जब्त कर व्यापारियों पर 45 हजार रुपये जुर्माना ठोंका गया। तो मंगलवार को शहर में बड़ी कार्रवाई देखने को मिली। एसडीएम सदर नंदलाल सिंह, सीओ सिटी देव आनंद और ईओ डॉ. दीप कुमार वाष्र्णेय के नेतृत्व में प्रशासन, पुलिस और नगर पालिका की टीमें छापेमारी के लिए निकलीं। घंटाघर स्थित शाहिद अहमद की डिस्पोजेबल बर्तनों की दुकान पर बाहर रखी पॉलीथिन देख जांच शुरू की गई। टीम जैसे ही दुकान के अंदर पहुंची तो स्थिति देखकर दंग रह गई। वहां पॉलीथिन के बड़े-बड़े बंडल और कार्टून रखे थे। यहां से पॉलीथिन एकत्रित कर जब्त करने में लंबा वक्त लगा। जब इसे तोला गया तो यह 4.5 कुंतल वजनी बैठी। पालिका ने पॉलीथिन जब्त कर व्यापारी पर 25 हजार रुपये का जुर्माना लगाया।

इसके पास ही सतीश की दुकान पर 60 किलो पॉलीथिन जब्त की गई। इन पर भी 25 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया। इसके अलावा टीम ने पोस्ट आफिस के सामने दो, वाटर व‌र्क्स के सामने एक और आगरा रोड चुंगी पर दो दुकानों में पॉलीथिन मिलने पर छह हजार रुपये जुर्माना वसूला। यूं तो टीमें काफी देर तक शहर में घूमती रहीं, लेकिन मंगलवार को साप्ताहिक बंदी के कारण अधिकांश दुकानें बंद थीं। ईओ ने बताया कि कार्रवाई लगातार जारी रहेगी। बड़े स्टॉकिस्ट चिन्हित कर लिए गए हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस