जासं, एटा: विधानसभा चुनाव की तैयारियां तेज हो गई हैं। शुक्रवार को नियुक्त सेक्टर मजिस्ट्रेट के द्वारा अलीगंज विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्रों पर पहुंचकर व्यवस्थाएं परखीं गई। लगातार निर्देशों के बावजूद भी केंद्रों पर बीएलओ गैरहाजिर मिले। यहां तक की मतदाता सूचियां चस्पा न किए जाने की स्थिति भी पाई गई। सेक्टर मजिस्ट्रेट ने अपनी रिपोर्ट प्रशासन को दी है।

यहां बता दें कि जिलाधिकारी द्वारा चुनाव से पहले ही सभी मतदान केंद्रों को आवश्यक सुविधाओं तथा व्यवस्थाओं से पूर्ण करने के लिए सेक्टर मजिस्ट्रेट को पड़ताल की जिम्मेदारी दी है। पहले दिन अलीगंज तथा जैथरा क्षेत्र के सेक्टर मजिस्ट्रेट केंद्रों पर पहुंचे तथा वहां मतदाताओं को आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध होने की पड़ताल के साथ ही वेबकास्टिग तथा क्रिटिकल स्थिति को लेकर निर्धारित बिदुओं पर फीडबैक लिया। इस दौरान कुछ स्थानों पर व्यवस्थाएं पूरी मिली तो कहीं सुधार के लिए निर्देशित किया। मतदान केंद्रों पर बीएलओ की उपस्थिति के निर्देशों के बावजूद डेढ़ दर्जन बीएलओ अनुपस्थित पाए गए हैं। इसके अलावा मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन के बाद तमाम केंद्रों पर सूची न लगाए जाने तथा कई बीएलओ द्वारा नई सूची तहसील से ही प्राप्त न किए जाने की भी स्थितियां पाई गई। सेक्टर मजिस्ट्रेट द्वारा संबंधित रिपोर्ट निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध कराई गई हैं। आज एटा के बूथों का निरीक्षण

-जिला निर्वाचन अधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल द्वारा जारी किए गए रोस्टर के अनुरूप 22 जनवरी को एटा विधानसभा के सभी बूथों का निरीक्षण सेक्टर मजिस्ट्रेट द्वारा किया जाएगा। इसी क्रम में 24 को मारहरा तथा 25 जनवरी को जलेसर विधानसभा के बूथ की पड़ताल कर सेक्टर मजिस्ट्रेट रिपोर्ट देंगे।

Edited By: Jagran