कांवड़ यात्रा में दुर्घटनाएं रोकने को पांच जोन, 18 सेक्टर में बांटा जिला

जासं, एटा : सावन के चौथे सोमवार को लेकर निकाली जा रही कांवड़ यात्रा के चलते दुर्घटनाएं रोकने को पुलिस प्रशासन ने कड़े कदम उठाए हैं। जनपद को पांच जोन और 18 सेक्टरों में बांटा गया है। मजिस्ट्रेटों की तैनाती गई है। कांवड़ यात्रा रूट पर प्रत्येक दो किलोमीटर पर अस्थायी अवरोधक बनाए जा रहे हैं, ताकि वाहनों पर चलने वाले कांवड़ यात्रियों की गति पर लगाम लग सके। सावन के तीसरे सोमवार को लेकर कांवड़ यात्रा के दौरान दनादन हादसे हुए थे और एक कांवड़ यात्री की मौत हो गई थी। 10 श्रद्धालु घायल हुए थे। इनके कारण डीआइजी दीपक कुमार को भी एटा का दौरा करना पड़ता था। गुरुवार को कलक्ट्रेट पर जिलाधिकारी अंकित अग्रवाल की मौजूदगी में एक बैठक हुई, जिसमें यात्रा का रोडमैप तैयार किया गया। जोन प्रथम में एसडीएम सदर शिव कुमार, क्षेत्राधिकारी कालू सिंह को थाना कोतवाली नगर क्षेत्र, कोतवाली देहात, बागवाला का मजिस्ट्रेट नियुक्त किया है। जोन द्वितीय में एएसडीएम रामनयन, क्षेत्राधिकारी राघवेन्द्र सिंह को थाना मारहरा, मिरहची, पिलुआ एवं जोन तृतीय में तहसीलदार चन्द्र प्रकाश सिंह, क्षेत्राधिकारी सुनील कुमार त्यागी को थाना बागवाला, सकीट, मलावन, रिजोर एवं जोन चतुर्थ में क्षेत्राधिकारी इरफान नासिर खान, एसडीएम अलंकार अग्निहोत्री को थाना सकरौली, निधौलीकलां, अवागढ, जलेसर एवं जोन पांच में एसडीएम मानवेन्द्र सिंह, क्षेत्राधिकारी राजकुमार को थाना अलीगंज, जैथरा, राजा का रामपुर, नयागांव, जसरथपुर में जोनल मजिस्ट्रेट के रूप में तैनात किया है। इसके अलावा सेक्टर मजिस्ट्रेट, सेक्टर पुलिस अधिकारियो को भी तैनात किया गया है। स्वास्थ्य विभाग से कहा गया है कि स्वास्थ्य टीमें भी उपस्थित रहें, जिससे कि कोई समस्या न आए। कावड़ यात्रियों के साथ शालीनता व्यवहार रखें तथा आवागमन सुचारू रखने के लिए निरंतर पेट्रोलिंग की जाए।

Edited By: Jagran