एटा, जागरण संवाददाता। पिछले साल की अपेक्षा इस बार स्वच्छ सर्वेक्षण में नगर पालिका एटा को 12 अंक का फायदा हुआ है। जिसे लेकर नगर पालिका को इस बार के सर्वेक्षण में राष्ट्रीय स्तर पर 252वां स्थान मिला है। जबकि पिछले साल सर्वेक्षण में नगर पालिका को 264वां स्थान हासिल हो सका था। इस बार सीनियर सिटीजन की अच्छी फीडबैक मिलने से पालिका ऊंचे तक पहुंच सकी है।

स्वच्छ भारत मिशन के अंतगर्त सरकार अधिक से अधिक बजट खर्च कर रही है। जिसे लेकर शहर, कस्बा पूरी तरह से स्वच्छ रहे और लोग स्वस्थ्य रह सके। उसी को लेकर नगर पालिका और नगर पंचायत को मोटा बजट भी दिया जाता है। जिसकी हकीकत जानने के लिए सरकार टीम भेजकर सर्वेक्षण कराती है। 

स्टेट स्तर पर एटा को 49 वां स्थान

पिछले दिनों जिले में भी टीम ने भ्रमण करते हुए एटा नगर पालिका के साथ-साथ नगर पंचायतों में भी सर्वेक्षण किया था। जिसके दौरान मिली रिपोर्ट के आधार पर नगर पालिका एटा को नेशनल स्तर पर 252वीं रैंक मिली है। जबकि स्टेट स्तर पर जनपद को 49 वां स्थान मिला है। 

इसके अलावा अलीगंज को नोर्थ जोन में 25, अवागढ़ को 6, जैथरा को 33, जलेसर को 55, मारहरा नगर पालिका को 172, निधौलीकलां को 196, राजा का रामपुर को 44 और सकीट को 69 वां स्थान मिला है। 

जैथरा को मिला वेस्ट सिटीजन फीडबैक अवार्ड

स्वच्छता सर्वेक्षण में सीनियर सिटीजन फीडबैक, स्वच्छता आदि का आंकलन करके नंबर दिए जाते हैं। उसी को लेकर जैथरा नगर पंचायत को 15 हजार की आबादी में वेस्टर सिटीजन फीडबैक पर अवार्ड दिया गया है। इसके लिए नगर पंचायत को दिल्ली में सम्मानित किया गया है।

Edited By: vinay kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट