जागरण संवाददाता, एटा : किसान संगठनों ने भारत बंद सोमवार को आयोजित किया है। पूर्व बेला पर अखिल भारतीय किसान यूनियन समेत विभिन्न संगठनों ने शहर में बाइक रैली निकालकर बाजार बंद रखने का आह्वान किया। उधर पुलिस ने भी किसी भी तरह के बवाल की आशंका को देखते हुए व्यापक तैयारियां की हैं, पुलिस को अलर्ट मोड पर रखा गया है।

किसान संगठनों के भारत बंद को विपक्षी दलों ने भी समर्थन दिया है। कृषि कानून के विरोध में किसान संगठनों ने बंद का आयोजन किया है। इसके लिए अखिल भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिल संघर्षी के नेतृत्व में रविवार को बाइक रैली भी निकाली गई, जिसमें कांग्रेस के कार्यकर्ता भी शामिल थे। इस रैली में शामिल कार्यकर्ता बाजार बंद करने की अपीलें कर रहे थे। उधर एसएसपी उदयशंकर सिंह ने एक बैठक कर पुलिस की तैयारियों की समीक्षा की। सभी सार्वजनिक स्थानों, बाजारों में पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती करने के आदेश दिए गए हैं। एसएसपी ने कहा है कि अगर किसी ने जबरन दुकानें बंद कराने की कोशिश की तो सख्त कार्रवाई करने से पुलिस नहीं हिचकेगी। किसी भी तरह की अशांति बर्दाश्त नहीं होगी। उन्होंने कहा कि जुलूस या जाम जैसी स्थिति बनने पर पुलिस सख्ती से निपटेगी। सीओ सिटी राजकुमार ने बताया कि शहर में व्यापारियों की सुरक्षा के पर्याप्त बंदोबस्त किए गए हैं। अगर कोई बल पूर्वक दुकानें बंद कराने की कोशिश करेगा तो पुलिस कर्मी तत्काल रोकेंगे। राज्य स्तरीय कल्याण मेला में जिले से पहुंचे किसान: लखनऊ में राज्य स्तरीय किसान कल्याण मेला का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें शामिल होने के लिए जिले से 50 किसान रवाना हुए हैं। किसानों को लेकर जाने वाली बस को मारहरा विधायक वीरेन्द्रसिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

किसानों को नई तकनीकि सिखाकर उनकी आमदनी बढ़ाने के लिए सरकार अलग-अलग तरह के कदम उठा रही है। उसी को लेकर लखनऊ में राज्य स्तरीय किसान कल्याण मेला का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें शामिल होने के लिए जिले से 50 किसान भेजे गए हैं। देर शाम किसानो की बस को हरी झंडी दिखाकर मारहरा विधायक वीरेन्द्रसिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया है। इस अवसर पर सुधीर तोमर के अलावा संदीप राठौर, पुष्पेंद्र सिंह, व्योमकेश, उदयवीर सिंह सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Edited By: Jagran