देवरिया : नसेड़ी युवकों ने गांजा नहीं पिलाने पर पड़ोसी प्रांत बिहार के गोपालगंज जनपद के नाथ मंदिर रसौती कटया के पुजारी की हत्या की थी। डॉग स्क्वायड की मदद से कटया पुलिस ने घटना का पर्दाफाश किया है।

मंदिर के पुजारी वशिष्ठ उपाध्याय की हत्या बुधवार की रात में हुई थी। डॉग स्क्वायड और सर्विलांस की सहायता से हत्यारों तक पुलिस टीम को पहुंचने में मदद मिली। घटना में शामिल तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। गोपालगंज पुलिस अधीक्षक मनोज तिवारी ने बताया कि तीन दोस्त रसौती निवासी अजय राय, डुमरिया निवासी लक्ष्मण तिवारी, रायपुरा निवासी नित्यानंद मिश्रा रोज मंदिर में गांजा पीने जाया करते थे। बुधवार को भी तीनों गांजा पीने गए तो पुजारी ने गांजा पिलाने से इंकार कर दिया इसी बात पर विवाद हो गया और तीनों वहां से घर चले गए। रात में अजय ने अपने दोनों दोस्तों को फोन कर बुलाया और तीनों मंदिर की दीवार फांद कर अंदर चले गए और सो रहे पुजारी को बॉस के डंडे से पीटकर मारडाला। दूसरे दिन मौके पर पहुंची। डॉग स्क्वायड की टीम के साथ जांच में आया कुत्ता मौके पर डंडा व एक चप्पल सूंघते हुए सीधे अजय राय के घर पहुंच गया। पुलिस ने अजय को गिरफ्तार कर लिया। कड़ाई से पूछताछ में अजय ने सच्चाई बता दी। तीनों हत्यारोपित गिरफ्तार कर लिए गए हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस