देवरिया : अनियोजित विकास शहरियों पर भारी पड़ रहा है। कहीं पाइप ठीक करने के लिए सड़क तोड़ी जा रही है तो कहीं नई सड़क बनाने के लिए पुरानी सड़क तोड़कर छोड़ दी गई। सड़क पर बिखरे ईंट के टुकड़े व कीचड़ से हर रोज नागरिकों की सांसत हो रही, लेकिन उनकी पीड़ा को समझने वाला कोई नहीं है।

ऐसी ही सड़कों में शुमार है भटवलिया वार्ड की एक सड़क, इंटरलाकिग सड़क को निर्माण के नाम पर चार माह पूर्व ठेकेदार ने तोड़ दिया। मुख्य मार्ग के पैकौली कुटी के बगल से सड़क मोहल्ले में जाती है। यह सीसी सड़क जर्जर होने के बाद जीर्णोद्धार के लिए जनवरी में इसे तोड़ा गया। 4.70 लाख रुपये से इस सड़क का निर्माण होना था। सड़क तोड़कर पाइप लाइन बिछाई गई, लेकिन उसके बाद सड़क व नागरिकों को उनके हाल पर छोड़ दिया गया। दयाशंकर मिश्र, इंद्रजीत सिंह, मदनमोहन मिश्र, अजीत पांडेय, जगदीश वर्मा, गुड्डू पांडेय आदि नागरिकों का कहना है कि नपा व ठेकेदार की लापरवाही से हम लोगों की सांसत हो रही है। उखड़ी सड़क व उसमें बने गड्ढों के बीच से चलना मुश्किल है। रात में अक्सर लोग गिर कर घायल हो जाते हैं। बारिश होने की दशा में तो स्थिति और भी खराब हो जाती है। शिकायत करने पर जिम्मेदार लोग ध्यान नहीं देते हैं।

इस संबंध में अधिशासी अधिकारी एसपी सिंह ने बताया कि सड़क का निर्माण क्यों रुका है इसका पता कर शीघ्र सड़क का निर्माण शुरू कराने का प्रयास होगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस