देवरिया: दीवानी न्यायालय गेट पर दूसरे दिन मंगलवार को भी पुलिस का सख्त पहरा रहा। सुरक्षाकर्मियों ने किसी भी वादकारी को अंदर प्रवेश नहीं करने दिया। केवल अधिवक्ताओं को अंदर जाने की अनुमति मिली थी। वादकारी गेट के बाहर ही घंटों जमे रहे।

जनपद में कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेज हो गई है। इसको देखते हुए उच्च न्यायालय इलाहाबाद के आदेश पर सोमवार से ही वादकारियों व अन्य बाहरी लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। मंगलवार को सुबह से ही दीवानी न्यायालय गेट पर सुरक्षाकर्मी मौजूद थे। सुरक्षाकर्मियों ने सख्त रुख अख्तियार किया। किसी भी वादकारी को भीतर नहीं जाने दिया गया। शाम तक यही स्थिति बनी रही। अधिवक्ता अंदर गए। वादकारियों ने गेट के बाहर चाय की दुकानों पर अपने अधिवक्ता से मुलाकात की और तारीख के बारे में जानकारी ली। राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में खुर्शीद व भोला का चयन

राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद के तत्वावधान में जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान रामपुर कारखाना में वर्ष 2021 के लिए राज्य स्तरीय पटकथा लेखन प्रतियोगिता के लिए दो शिक्षकों का चयन किया गया है। इन दोनों शिक्षकों को पुरस्कृत किया जाएगा। जनपद के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों के शिक्षकों से आजादी का अमृत महोत्सव थीम पर पटकथा पांच जनवरी 2022 तक आमंत्रित किए गए थे। प्राप्त पटकथाओं का मूल्यांकन तीन सदस्यीय टीम ने किया। इस पैनल में डार्क हार्स जैसे चर्चित उपन्यासों के लेखक एवं साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार विजेता नीलात्पल मृणाल, फिल्म निर्माता निर्देशक व पटकथा लेखक डा.ध्रुव हर्ष तथा इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के हिदी विभाग में प्रोफेसर डा.विनम्र सेन सिंह थे। राज्य स्तर पर प्रतिभाग के लिए प्राथमिक स्तर से रामपुर कारखाना विकास खंड के चांदपुर प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक भोला चौधरी व देसही देवरिया के सहवा पूर्व माध्यमिक विद्यालय के खुर्शीद अहमद का चयन किया गया है। भोला ने शहीद रामचन्द्र विद्यार्थी व खुर्शीद ने सरदार भगत सिंह के ऊपर अपनी पटकथा लिखी है।

Edited By: Jagran