देवरिया : उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक उमानगर स्थित शिविर कार्यालय पर हुई, जिसमें प्रदेश सरकार द्वारा जारी आदेश पर नाराजगी व्यक्त की गई। संघ के पूर्व मंडलीय मंत्री उमाशंकर लाल श्रीवास्तव ने कहा कि सरकार द्वारा महंगाई, भत्ता, नगर प्रतिकर भत्ता आदि समाप्त किया जाना शिक्षकों के साथ धोखा है। अजीत कुमार त्रिपाठी, पूर्व जिलाध्यक्ष प्रेमचंद मिश्र, कृष्ण मोहन सिंह, विनोद शाही, मुश्ताक अहम, रामरक्षा दूबे, संजय यादव और दयाशंकर यादव मौजूद रहे। प्रतापगढ़ की घटना के विरोध में डीएम को ज्ञापन

अखिल भारतीय कुर्मी-क्षत्रिय महासभा ने राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा गया। इसमें कहा गया है कि प्रतापगढ़ के भुई समेत अन्य गांवों में कुछ दबंगों द्वारा समाज के लोगों को मारपीट कर लहूलुहान कर दिया गया है। पुलिस मूकदर्शक बनी रही। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो आंदोलन किया जाएगा। ज्ञापन देने वालों में जिलाध्यक्ष रामनगीना सिंह, पीयूष कुमार सिंह, परमेश्वर पटेल, रीतेश पटेल, मनोज पटेल आदि मौजूद रहे। क्वारंटाइन सेंटर में उत्पात मचाने की शिकायत

बरहज थाना क्षेत्र के ग्राम देईडीहा के प्रधान सुभाष चंद्र ने पुलिस से शिकायत की है। जिसमें कहा है कि बालू छापर क्वारंटाइन सेंटर में तीन प्रवासियों को रखा गया। शाम तक यह तीनों रहे और उसी दिन शराब पीकर उत्पात मचाए। बवाल की सूचना पर पहुंची पुलिस ने समझाया, लेकिन वह प्रधान से विवाद करने लगे और क्वारंटाइन सेंटर में रहने से इन्कार कर दिए। श्रमिकों व जरूरतमंदों की सेवा में लगे हैं कांग्रेस कार्यकर्ता

कांग्रेस पार्टी के पूर्व प्रदेश सचिव आनंदेश्वर प्रताप सिंह ने पथरदेवा में प्रेसवार्ता के दौरान कहा कि प्रदेश में गरीबों और मजदूरों की मदद करने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। प्रदेश सरकार के इशारे पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल में डाल दिया गया। मुख्यमंत्री को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ दर्ज मामले पर पुनर्विचार करना चाहिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस