देवरिया: गौरीबाजार नगर पंचायत के वार्ड संख्या तीन मलिन बस्ती की पहचान जर्जर सड़कें बन गईं हैं। नालियों के अभाव में जलनिकासी गंभीर समस्या बन गई है।

गोरखपुर-देवरिया मार्ग पर स्थित संजय की दुकान से निजामुद्दीन के घर तक सड़क जर्जर है। नालियां भी नहीं बनी हैं। बस्ती में भोला के घर से लालती देवी के घर तक सड़क की दशा बेहद दयनीय है। वहीं श्रवण के घर से देवरिया रोड स्थित तलहा के घर तक सीसी रोड व नाली का निर्माण तो हुआ लेकिन अभी तक नालियों को स्लैब से नहीं ढका गया है। मस्जिद गली में अहमद के घर से देवरिया रोड तक सीसी रोड व नाली अधूरी बनी है।

यहां के निवासी विपिन राय कहते हैं कि मोहल्ले की सड़क जर्जर है। जलनिकास का कोई इंतजाम नहीं है। सफाई नहीं होती। कौशिल्या देवी कहती हैं कि नाली पर स्लैब न होने से छोटे बच्चे आए दिन गिरकर घायल होते हैं। पथ प्रकाश व्यवस्था भी ठीक नहीं हैं। बैंक रोड निवासी अब्दुल रज्जाक कहते हैं कि मुख्य सड़क गौरीबाजार-रुद्रपुर मार्ग पर प्रस्तावित टू लेन का कार्य धीमी गति से चल रहा है। दो वर्ष से नागरिक परेशान हैं। बरसात में जलभराव की स्थिति है। अमीना खातून कहती हैं कि खराब सड़क जलनिकासी की व्यवस्था न होने से हम लोग परेशान हैं। वार्ड तीन में जरूरी सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं। सड़क व नालियों का कार्य प्रस्तावित है। वार्ड में ग्राम पंचायत रामपुर का कुछ हिस्सा जुड़ने से कुछ समस्याएं हैं। प्राथमिकता के आधार पर समस्याएं दूर की जा रही हैं।

अमिताभ मणि, अधिशासी अधिकारी अधिक बारिश व कोरोना संक्रमण के कारण कार्य प्रभावित हुआ है। वार्ड के नागरिकों की जो समस्याएं हैं, उसे निस्तारित कराया जाएगा।

मुमताज अहमद, सभासद वार्ड एक नजर में

जनसंख्या: 1190

मकानों की संख्या: 316

इंडिया मार्क हैंडपंप : 16

पथ प्रकाश एलईडी: 55

सफाई कर्मी : 3

प्रधानमंत्री आवास: 80

------------------

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस