देवरिया : जिले में चयनित ओडीएफ गांवों में शौचालय निर्माण की प्रगति खराब होने पर मुख्य विकास अधिकारी राजेश कुमार त्यागी ने परियोजना निदेशक रविशंकर राय को सामान्य निरीक्षण करने तथा कार्यालयों में पटल सहायकों के कार्यों का निरीक्षण करने की जिम्मेदारी सौंपी है। साथ ही तीन में आख्या प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है।

स्वच्छ भारत मिशन सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में एक है। इसके तहत जिले की ग्राम पंचायतों को खुले में शौचमुक्त बनाने का अभियान चल रहा है, लेकिन जिला पंचायत राज अधिकारी द्वारा इस अभियान को गंभीरता से न लेने पर सीडीओ ने नाराजगी जताई है। सीडीओ ने निर्गत आदेश में कहा है कि योजनाओं से संबंधित पत्रावलियां समय से प्रस्तुत नहीं की जाती है, जिसके कारण विकास कार्यों की प्रगति खराब है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत कार्य नहीं किया जा रहा है। जो अत्यंत ही गंभीर है। सीडीओ ने परियोजना निदेशक को योजना के तहत निर्माणाधीन शौचालयों का निरीक्षण करने तथा कार्यालय में पटल सहायकों के कार्यों का निरीक्षण कर तीन दिन में आख्या प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। उधर विभाग में चर्चा है कि जब आवास की प्रगति पीडी सही नहीं कर पा रहे हैं तो शौचालय की प्रगति क्या ठीक करेंगे। अब तो देखना है कि दोनों महत्वपूर्ण योजनाएं कितनी रफ्तार पकड़ती हैं।

By Jagran