जागरण संवाददाता, देवरिया: उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के तत्वावधान में गुरुवार को शिक्षकों की ब्लाक संसाधन केंद्र परिसर में बैठक हुई। जिसमें शिक्षकों की समस्याओं को लेकर आंदोलन की रणनीति बनाई गई।

जिलाध्यक्ष शैलेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि अब शिक्षक संघ शिक्षकों व कर्मचारियों की मांगों को लेकर आरपार के संघर्ष का बिगूल बजा दिया है। अब संघर्ष के बल पर मांगों को पूरा कराने के बाद ही चैन की सांस लेगा। सरकार की उदासीनता से कर्मचारी-शिक्षक बहुत आहत हैं। आंदोलन का तीसरा चरण पांच अक्टूबर को और सशक्त तरीके से किया जाएगा। जिसमें दर्जनभर संघ के कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी व पेंशनर्स शामिल होंगे। कहा कि जनपद स्तरीय सेवानिवृत्त शिक्षकों का सम्मान समारोह देसही देवरिया में आयोजित किया जाएगा।

जिला मंत्री आनंद प्रकाश यादव ने कहा कि जनपद स्तरीय सेवानिवृत्त शिक्षक सम्मान समारोह में प्रदेश अध्यक्ष समेत अन्य प्रदेशीय पदाधिकारी व दो हजार से अधिक शिक्षक हिस्सा लेंगे। वरिष्ठ उपाध्यक्ष डा.सत्य प्रकाश सिंह ने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली, कैशलेस चिकित्सा सुविधा, पदोन्नति, मृतक शिक्षक आश्रितों को टीईटी से छूटकर देकर शिक्षक पद नियुक्त करने समेत विभिन्न मांगों को लेकर आंदोलन किया जा रहा है। जब तक मांगे पूरी नहीं होगी। तब तक आंदोलन जारी रहेगा। बैठक में जयप्रकाश मणि, ऋषिकेश जायसवाल, बैजनाथ पति त्रिपाठी, शफीक अहमद, विनोद कुमार मिश्र, बसंती राय, गायत्री तिवारी, सरिता जायसवाल, जयप्रकाश सिंह, रमेश कुमार यादव, ओमप्रकाश शुक्ल, संजय सिंह, निर्भय राय, गोविद मिश्र, लालकृष्ण सिंह, रमेश प्रताप यादव, अरुण तिवारी, सुशील सिंह मौजूद रहे।

-

गुणवत्ता पर ध्यान दें शिक्षक

जासं,रुद्रपुर : उपनगर के सत्तासी इंटर कालेज पर गुरुवार को शिक्षकों की बैठक हुई। जिसमें अध्यक्ष डा. रामभरोसा त्रिपाठी ने कहा कि शिक्षक अपने कर्तव्यों का सही रूप से निर्वहन करें जिससे कि छात्रों का भविष्य उज्जवल हो सके। शिक्षा के महत्व पर विशेष ध्यान देने पर जोर दिया । तरुण कुमार पांडेय ने कहा कि शिक्षक छात्रों के हित का ध्यान रखें। इस दौरान संजय कुमार पांडेय, चंद्रशेखर मिश्र, संतोष कुमार पांडे, महेश्वर पांडेय, रवि तिवारी, आनंद प्रकाश मिश्र, प्रमोद यादव, अरविद कुमार पांडेय, चंद्रशेखर मिश्र घनश्याम पांडेय, विपुल मिश्रा आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran