जागरण संवाददाता, देवरिया: जिले के सलेमपुर के जुमुआ नम्बर दो में आरोग्य हास्पिटल एवं सर्जिकल सेंटर के फर्जी ढंग से चलने की सूचना किसी ने सीएमओ कार्यालय को दी। सीएमओ डा. आलोक पांडेय के निर्देश पर एसीएमओ डा. राजेन्द्र प्रसाद टीम के साथ अस्पताल पर पहुंचे और यहां जांच शुरू किए। यहां मरीजों को डायलिसिस किया जा रहा था लेकिन कोई डाक्टर मौजूद नहीं था।

अस्पताल का संचालक कोई कागजात नहीं दिखा सका। उसका रजिस्ट्रेशन भी नहीं था। एसीएमओ ने अस्पताल को शील करा दिया। इसके बाद चारो तरफ खलबली मच गई। कई अस्पताल संचालक अपना शटर गिरा कर फरार हो गए। छापामारी की कार्रवाई के दौरान एमपी तिवारी, सरोज तिवारी, अशोक गौतम व सलेमपुर सीएचसी के कर्मचारी मौजूद रहे। परिवार नियोजन विकास की सीढ़ी: डा. आलोक पांडेय

जागरण संवाददाता, मझगांवा, देवरिया: प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मझगांवा में खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन किया गया। यहां मुख्य अतिथि सीएमओ आलोक पांडेय ने फीता काटकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया और महिलाओं को परिवार नियोजन और दो बच्चों के अंतर के लाभ के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

कहा कि पहले बच्चे के बाद दूसरे बच्चे में करीब चार साल का अंतर होना चाहिए। बच्चों में अंतर होने से महिला के शरीर में रक्त की कमी नहीं होंगी। पुरुषों को भी परिवार नियोजन का ख्याल रखना चाहिए। यह जीवन व स्वयं के स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी है। परिवार नियोजन विकास की पहली सीढ़ी है। सीएमओ ने यहां मौजूद लोगों को परिवार कल्याण की सामग्री वितरित की।

कार्यक्रम में संजय त्रिपाठी, बीसीपीएम राजाराम, दिव्या वर्मा, वाचस्पति मिश्र, अरविद सिंह, स्नेहा सिंह, सोनी देवी, पन्ना देवी आदि लोग मौजूद रहे।