जागरण संवाददाता, चित्रकूट : कर्वी कोतवाली अंतर्गत गांव में खेत पर पड़ी केबिल में करंट की चपेट में आकर छात्र ने दम तोड़ दिया। इससे परिजनों में चीख-पुकार मच गई। ग्रामीणों ने खुली केबिल को लेकर नाराजगी जताई।

क्षेत्र के गांव सिद्धपुर निवासी राम बहोरी प्रजापति का पुत्र रघुनंदन प्रसाद उर्फ छुट्टन (22) बीए तृतीय वर्ष का छात्र था। शनिवार को वह गांव के बाहर खेत पर खड़ी धान की फसल में खाद डालने गया था। इस बीच गांव के संदीप ¨सह की डेयरी व पानी के प्लांट के लिए जाने वाली केबिल की चपेट में आ गया। केबिल कटी होने के कारण बिजली करंट से उसकी मौत हो गई। खेत के पास से निकल रहे ग्रामीणों की निगाह शव पड़ी तो जानकारी परिजनों को दी। मौके पर सैकड़ों ग्रामीणों की भीड़ इकट्ठी हो गई। ग्रामीणों ने कटी केबिल को लेकर नाराजगी जताई। जेई परमेश्वर गोराई ने बिजली केबिल हटाई। जिला पंचायत सदस्य अनिल प्रधान, बुंदेली सेना के जिलाध्यक्ष अजीत ¨सह, बीपी पटेल, अतुल ¨सह व नत्थू ¨सह समेत अन्य ने परिजनों को ढांढस बंधाया। परिजनों ने संदीप ¨सह के खिलाफ तहरीर दी है। कोतवाली प्रभारी एके ¨सह ने बताया कि तहरीर के आधार पर जांच की जा रही है। दोषी मिलने पर कड़ी कार्रवाई होगी।

------------------------

केबिल हटती तो बच जाती जान

ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि बिजली विभाग को कई बार कटी केबिल हटाने के लिए कहा गया लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। इसको लेकर बिजली विभाग के अफसरों व कर्मियों के खिलाफ भी गुस्सा साफ दिखाई पड़ा।

------------------------

ट्रैक्टर चालक ने फांसी लगाकर दी जान

जासं, चित्रकूट : शनिवार देर रात घर पहुंचे ट्रैक्टर चालक ने फांसी लगाकर जान दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव का नीचे उतारा।

कर्वी कोतवाली अंतर्गत सीतापुर पुलिस चौकी क्षेत्र के अमानपुर निवासी माता प्रसाद (45) पुत्र मंगलवा वर्मा ट्रैक्टर चलाता था। अक्सर घर शराब के नशे में घर पहुंचने पर उसका पत्नी सिया सखी से झगड़ा होता था। शनिवार रात करीब दस बजे वह घर पहुंचा। खाना खाने के बाद अपने कमरे में चला गया। अंदर से दरवाजा बंद कर उसने पंखे से लटक कर जान दे दी। इसी बीच छोटी बेटी कोमल ने खिड़की से झांक कर देखा तो होश उड़ गए। अंदर पिता का शव फांसी के फंदे पर लटका था। यूपी-100 टीम ने पहुंच कर दरवाजा तोड़ा। पत्नी ने बताया कि भोजन करने के बाद कमरे जाकर फांसी लगा ली।

Posted By: Jagran