संवाद सहयोगी, मऊ (चित्रकूट) : गुंता नदी में मछली मारने गया युवक बाढ़ में बह गया। पुलिस ने कई घंटे की मशक्कत के बाद शव को खोजा। वह चेकडैम में मछली मार रहा था। तभी पैर फिसलने के हादसा हो गया।

रैपुरा थाना अंतर्गत हनुमानगंज मजरा लौरी निवासी 26 वर्षीय एनपी कोल रविवार को अपने भाई राजभान, छोटका समेत अन्य कुछ साथियों के साथ मछली का शिकार करने गुंता नदी में गया था। कौबरा व रामपुर संपर्क मार्ग के पास नदी पर बने चेकडैम पर सभी लोग मछलियों का शिकार कर रहे थे। जबकि नदी उफान में थी। अचानक एनपी का पैर फिसल गया और चेकडैम में गिरकर नदी के तेज बहाल में बह गया। उसके भाइयों और साथियों ने खोजने की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली। घटना की सूचना दूसरे दिन सुबह ग्राम प्रधानपति मुन्ना सिंह को दी। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से खोजबीन शुरू की। सोमवार को अपराह्न करीब ढाई बजे उसका शव चेकडैम से करीब दो सौ मीटर की दूरी नदी में मिला। मृतक पांच भाइयों में तीसरे नंबर का था। पत्नी पूजा व मां फूलकली का रो-रोकर बुरा हाल है। मृतक के दो बच्चे है। बालिका नाले में बही, मौत

मऊ थाना क्षेत्र अंतर्गत खपटिहा के मजरा मनौंधा बालिका नाला में बह गई। कौशांबी जनपद के सरांय अकिल थानांतर्गत कदैंली निवासी राकेश कुमार की छह वर्षीय पुत्री अंकिता अपनी मौसी सविता देवी निवासी मनौंधा के यहां मां के साथ आई थी। रविवार को बारिश की वजह से गांव के पास बह रहा नाला उफान पर था। गांव के बच्चों के साथ अंकिता नाला देखने गई थी। पैर फिसल जाने से वह नाले में गिरकर बह गई। सोमवार

को पुलिस ने बालिका का शव खोजा।

Edited By: Jagran