चित्रकूट, जेएनएन। प्रभु श्रीराम की तपोभूमि में आने वाले श्रद्धालुओं को अब एक ही स्थल से कई धार्मिक स्थलों के दर्शन होंगे। इसके लिए जिला प्रशासन ने लक्ष्मण पहाड़ी पर आधुनिक दूरबीन लगाने का फैसला किया है। इससे धार्मिक स्थलों के दृश्य निश्शुल्क दिखाए जाएंगे। दूरबीन से दस किमी.दूर तक के विहंगम नजारे दिखना खुद में अलग आकर्षण होगा। 84 कोस तक फैले तपोभूमि के धार्मिक स्थलों को देखने के लिए अभी श्रद्धालुओं को दूर-दूर तक जाना पड़ता है।

विहंगम नजारे होंगे लुभावने 

यहां स्थापित दूरबीन से एक ही जगह पर कई स्थलों को देखा जा सकेगा। बेहतर परिणम मिलने पर भविष्य में इनकी संख्या बढ़ाई जाएगी। पहाड़ी के ऊपर चबूतरा बनाकर उसमें दूरबीन को स्थापित करने का खाका खींचा गया है। इसकी देखरेख की जिम्मेदारी रोप-वे प्रबंधन को सौंपी गई है ताकि कोई नुकसान नहीं हो सके। दूरबीन से नजारे देखने के लिए श्रद्धालुओं को रोप-वे की सैर करना भी अच्छा लगेगा। 

यह स्थल दिखेंगे 

कामदगिरि, हनुमान धारा, रामशैय्या, रामघाट, पंपासुर, कोटितीर्थ, देवांगना, राम दर्शन, कांच मंदिर, आरोग्य धाम, दीनदयाल शोध संस्थान, सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट के साथ विंध्य पर्वत श्रेणी का सुरम्य व विहंगम नजारा। 

चित्रकूट के पर्यटन अधिकारी शक्ति सिंह ने बताया कि लक्ष्मण पहाड़ी पर दूरबीन की स्थापना जिलाधिकारी विशाख जी. के निर्देश पर की जा रही है। इससे चित्रकूट की सुरम्य वादियां देखने का मौका मिलेगा। दूरबीन की खरीदारी हो चुकी है। इसका शुभारंभ भी रोप-वे उद्घाटन के दौरान होगा।

 

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस