जागरण संवाददाता, चित्रकूट : कोरोना संकट से उबरने के प्रयासों के बीच अब जिला प्रशासन विकास कार्यों को गति देने में जुट गया है। इससे जल्द ही देवांगना हवाई पट्टी पर प्लेन उतरने लगेंगे। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर फर्राटा भरते हुए लोग दिल्ली चंद घंटों में पहुंचेंगे।

कलेक्ट्रेट सभागार में मंगलवार को हवाई पट्टी के विस्तारीकरण और बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के निर्माण की समीक्षा में डीएम शेषमणि पांडेय ने कहा कि बाधाओं को दूर कर काम में तेजी लाएं। हवाई पट्टी बना रही राइट्स संस्था के अधिकारियों को निर्देश दिए कि अड़चनों को दूर कर बेहतरी लाएं। प्रभागीय वन अधिकारी कैलाश प्रकाश से मिल कर पेड़ों की कटान कराएं ताकि बाउंड्रीवाल का निर्माण हो सके। परियोजना प्रबंधक जल निगम सुदीप कुमार को निर्देश दिए कि हवाई पट्टी की पेयजल की समस्या का तत्काल निस्तारण करें। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से कहा कि हवाई पट्टी के विस्तारीकरण का कार्य कर्वी-ददरी मार्ग के आगे तक होना है। इसलिए अलग सड़क बनाने के लिए वन विभाग से एनओसी लें। एडीएम जीपी सिंह से कहा कि लोक निर्माण विभाग, वन विभाग, एयरपोर्ट और राइट संस्था की टीम बनाएं। टीम मौके का निरीक्षण कर एक सप्ताह के अंदर रिपोर्ट दे ताकि बेहतरी से काम हो सकें। डीएम ने बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के निर्माण में जुटे यूपीडा के अफसरों से कहा कि किसी भी समस्या पर एसडीएम सदर अश्विनी कुमार पांडेय व तहसीलदार कर्वी दिलीप सिंह से मिलकर हल निकालें। अधिशासी अभियंता विद्युत हाकिम सिंह से कहा कि सड़क निर्माण में पड़ रहे विद्युत पोल को तत्काल शिफ्ट कराएं। वन निगम के अधिकारी पेड़ों की कटान कराएं। निर्देश के बाद भी मिट्टी खोदाई का माइनिग प्लान नहीं तैयार करने पर नाराजगी जताते हुए कार्रवाई की चेतावनी दी। कहा कि एडीएम व एसडीएम कायरें का स्थलीय निरीक्षण कर रिपोर्ट दें।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस