जागरण टीम, चित्रकूट : शारदीय नवरात्र में गुरुवार को भगवती के नौवें स्वरुप सिद्धदात्री का पूजन लोगों ने किया। भक्तों ने मंदिरों व घरों पर स्तुति के साथ कन्या भोज भी हुआ। देवी मंदिरों में सुबह से देर रात तक मां के दर्शन, पूजन व प्रसाद चढ़ाने चला। जिले की पुरानी बाजार व शंकर बाजार स्थित काली मंदिर, बंधोईन माता, झारखंडी माता,मऊ आनंदी देवी में देवी भक्तों का तांता लगा रहा। मां दुर्गा की नौ देवी परमशक्ति का नाम सिद्धदात्री है। जिन के दर्शन को देवी मंदिरों व पंडालों में सुबह से देर रात तक भक्तों की लंबी-लंबी लाइन लगी रही। हाथों में नारियल, फूल, चुनरी और प्रसाद मां को समर्पित करने के लिए श्रद्धालु लिए खड़े थे। आरती ढोल, नगाड़ों और घंटों के साथ शंख की ध्वनि से मां के परिसर गुंजायमान होते रहे। मानिकपुर प्रतिनिधि के अनुसार कस्बे समेत पाठा के ग्रामीण अंचल मां के भक्ति में सराबोर है । जय मां संतोषी मंदिर, दुर्गा मंदिर, घाटी में काली माता , बरमबाबा मे शेरावाली मे देवी भक्तों की भीड लगी रही। कस्बे में तीन दर्जन से अधिक देवी प्रतिमाएं सजी हैं। पूरे दिन कन्या भोज के साथ हवन का कार्यक्रम चलता रहा। वाल्मीकि आश्रम में महंत भरतदास ने कन्या पूजन के साथ भोज किया। थाना प्रभारी सुभाषचंद्र चौरसिया , एसआई दिनेश सिंह मय पुलिस फोर्स के साथ तिराहे , चौराहे मे डटे रहे।

----------------------

गुगौली में कन्या भोज का हुआ आयोजन संवाद सूत्र, चिल्ला : नव दुर्गा समिति के बैनर तले गुगौली गांव में कन्या भोज के साथ भंडारे का आयोजन किया गया। पंडाल में देवी के दर्शन के साथ श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया।

गुगौली गांव में नव दुर्गा समिति के तत्वावधान में पंडाल सजाकर प्रतिमा की स्थापना की गई है। आसपास के लोग मां के दर्शन को पहुंच रहे हैं। समिति ने गुरुवार को कन्या भोज के साथ भंडारे का आयोजन किया। नवयुवकों ने प्रसाद वितरण की कमान संभाली। भंडारे में आसपास के गांवों के भी लोग पहुंचे और माता रानी का प्रसाद ग्रहण किया। शुभम सिंह, सुनील सिंह, प्रताप सिंह, इंदल सिंह, बबली सिंह आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran