जागरण संवाददाता, चित्रकूट : झांसी-मीरजापुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर कर्वी मुख्यालय से गुजरने वाले रास्ते पर किया गया सरकारी अतिक्रमण लोगों की मुसीबत का सबब बना है। हालात ये हैं कि यहां से गुजरने में लगने वाला मिनटों का समय जाम के कारण घंटों में बदल जाता है। इससे बचने के लिए राहगीर और स्थानीय दुकानदार बाहर से आने वाले वाहनों के लिए बेड़ी पुलिया से खोह होते हुए बाईपास की मांग कर रहे हैं।

नगर पालिका परिषद ने बस अड्डे के पास हाईवे किनारे मूत्रालय का निर्माण शुरू करा दिया है। इससे फुटपाथ खत्म होना तकरीबन तय है। ट्रैफिक चौराहे व बस अड्डे के बीच हाईवे की हालत और ज्यादा पतली हो गई है। यहां पर नगर पालिका की दुकानों के आगे व उसके ठीक सामने फुटपाथ घेरा गया है। इससे वाहन सड़क पर खड़े होते हैं जो जाम का कारण बनते हैं। इसके अलावा मंदाकिनी पुल के आगे पुरानी कोतवाली के आसपास और पाठा जलकल योजना से जुड़े निर्माण के पास भी हाईवे तक कब्जे हो गए हैं। सीएमओ कार्यालय के पास सड़क पर बिजली ट्रांसफार्मर व शौचालय समस्या बना है। इससे कुछ दूर पर लोगों ने तमाम अवैध निर्माण करा लिए हैं। बेड़ी पुलिया से अमानपुर तक तय हद के आगे जगह-जगह अवैध निर्माण दिखाई पड़ते हैं। वहीं बिजली विभाग के खंभे भी जगह-जगह परेशानी खड़ी करते हैं। सरकारी अतिक्रमण से दिक्कतें

-सरकारी विभागों के अतिक्रमण से अन्य लोगों के हौसले भी बुलंद हो जाते हैं।

-इससे सड़क किनारे वाहन खड़े होते हैं जो जाम का कारण बनते हैं

- यहां से गुजरने वाले वाहन इसी जाम के कारण घंटों फंसे रहते हैं भविष्य में यह समस्याएं

-लगातार आबादी व वाहन बढ़ने से स्थिति और खराब होगी

-डग्गामार, अवैध टेंपो-टैक्सी स्टैंड से लगने वाला जाम भीषण हो जाएगा।

-हाईवे किनारे कब्जों से ट्रकों-वाहन फंसेंगे तो मुश्किल बढ़ेगी। उस जगह पर पहले भी मूत्रालय बने थे। अतिरिक्त जगह नहीं घेरी गई है। फुटपाथ किनारे बनने के कारण हाईवे पर आवाजाही में कोई फर्क नहीं पड़ेगा। अन्य जो कब्जे हैं उन्हें हटवाया जाएगा।

-एसके मिश्रा, अवर अभियंता, नगर पालिका परिषद चित्रकूटधाम कर्वी।

Posted By: Jagran