जासं, इलिया (चंदौली) : कस्बे में सीवर के निर्माण में हो रहे विलंब से नाराज कस्बावासी शनिवार को सड़क पर उतर आए। लेवा-इलिया मार्ग पर स्थानीय कस्बे के चौराहे पर चक्काजाम कर धरने पर बैठ गए। जिला पंचायत अध्यक्ष व कार्यदायी संस्था के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आरोप लगाया कि कमीशन के चलते निर्माण कार्य में अनदेखी की जा रही है। घंटों चले चक्काजाम व धरना से आवागमन बाधित हो गया। चकिया विधायक प्रतिनिधि के आश्वासन पर ग्रामीण माने और जाम समाप्त किया।

नाराज ग्रामीणों ने कहा सीवर का पानी गांव के ऐतिहासिक तालाब में गिराया जा रहा है। इसके चलते तालाब का पानी दूषित हो गया है। जब तक सीवर निर्माण कर पानी निकासी की व्यवस्था नहीं की जाती, प्रदर्शन जारी रहेगा। सीवर निर्माण के लिए दो करोड़ रुपये अवमुक्त हुआ है। जिला पंचायत अध्यक्ष व कार्यदायी संस्था से कई दफा सीवर का निर्माण कार्य बरसात से पूर्व कराने की गुहार लगाई गई। लेकिन सुनवाई नहीं हुई। कस्बे के लोग पहले से नाली जाम होने व गंदगी से मुश्किल में हैं। नाबदान का पानी जगह-जगह जमा हो गया है। बताया कि बरसात में जलजमाव हुआ तो व्यापार पर विपरीत असर पड़ेगा। घंटों चले धरना व चक्काजाम से दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई। उमस भरी गर्मी व चिलचिलाती धूप से वाहनों पर सवार यात्री, राहगीर बेहाल हो गए। चक्काजाम करने वालों में एकलाख अहमद, हरिद्वार चौरसिया, अशोक गुप्ता, राधेश्याम गुप्ता, मुंजीर अहमद, मुस्तफा सिद्दीकी, फारुख सिद्दीकी, पिटू, जावेद सिद्धकी, परवेज, नारद चौहान, दिलीप केसरी, महेंद्र प्रजापति, कन्हैया जायसवाल, अशोक प्रजापति आदि शामिल थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप