जासं, सैयदराजा (चंदौली) : नगर पंचायत और इससे सटे आधा दर्जन गावों में तीन माह से बिजली आपूर्ति बाधित है। इन गांवों को चंदौली फीडर से जोड़ा भी गया, लेकिन रोस्टर के मुताबिक बिजली नहीं मिल रही है। ग्रामीणों ने चेतावनी दी रोस्टर के अनुसार आपूर्ति नहीं दी गई तो वे उपकेंद्र का घेराव करेंगे।

सदर विकास खंड के सेरुका ग्राम में कुछ वर्ष पूर्व 33/11 केवी उपकेंद्र का निर्माण हुआ। इस स्वतंत्र फीडर से विद्युत आपूर्ति शुरू हुई। भरपूर बिजली मिलने से ग्रामीण गदगद थे। यहां लगा पांच एमवीए का ट्रांसफार्मर तीन महीने पहले जल गया। इससे सैयदराजा सहित आधा दर्जन गावों की आपूर्ति बाधित हो गई। ग्रामीणों का गुस्सा बढ़ा और अधिकारियों पर दवाब बनने लगा तो नगर व इन गांवों को चंदौली व बगहीं उपकेंद्र से जोड़ दिया गया, जबकि सेरुका उपकेंद्र में एक माह पूर्व ही जले ट्रांसफार्मर के स्थान पर पांच के बजाय दस एमवीए का नया ट्रांसफार्मर लगा दिया गया। विभाग ने उसे गर्म भी कर लिया, लेकिन उससे आपूर्ति आज तक नहीं हो सकी। वहीं जिन गांवों को चंदौली और बगही उपकेंद्र से बिजली मिल रही उन्हें भी कटौती का दंश झेलना पड़ रहा है। एसडीओ प्रशांत कुमार ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से अभी टेस्टिग नहीं हो पाई है। एक सप्ताह में टेस्टिग के बाद आपूर्ति चालू कर दी जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस