चंदौली : मानस एवं अध्यात्म प्रचार समिति की ओर से श्रीराम जानकी शिव मठ में आयोजित श्रीराम कथा के पांचवे दिन शनिवार को उपस्थित श्रद्धालुओं को कथावाचकों ने कथा का रसपान कराया। पं श्यामकिशोर जी ने श्रीराम नाम की महिमा का बखान किया। कहा कि कलयुग में केवल श्रीराम का नाम लेने से मनुष्य भव सागर को पार कर सकता है। कांटा के ज्ञानेंद्र तिवारी ने राम वनवास की कथा का विस्तार से वर्णन किया। मानस मयंक ने श्रीराम के प्रति अयोध्यावासियों के समर्पण भाव की व्याख्या की। बाल व्यास प्रशांत पाण्डेय, श्यामनारायण, रामचंद्र मिश्र, साध्वी अन्नपूर्णा ने भी श्रीराम कथा का विस्तार से वर्णन किया। हरिद्वार सिंह, जयशंकर दुबे, नीरज तिवारी, रामकेश यादव आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप