जासं, नौगढ़ (चंदौली) : बदलाव के लिए साझेदारी परियोजना व ग्राम्या संस्थान की ओर से शनिवार को कर्माबांध पर महिला हिसा विरोध दिवस का आयोजन किया गया। जन जागरूकता गोष्ठी के साथ पपेट शो के माध्यम से घरेलू हिसा कानून व जेंडर आधारित भेदभाव को लेकर चर्चा की गई। वक्ताओं ने कहा महिलाओं पर अत्याचार बंद हो। पुरुष प्रधान समाज के जागरूक और संभ्रांत लोग जगह-जगह गोष्ठियों के माध्यम से महिला अधिकार के प्रति जागरूकता कार्यक्रम करें। पीड़ित महिलाओं पर अत्याचार की वजह से बच्चों पर भी पड़ रहा है। भावी पीढि़यों में मानवता, महिलाओं के प्रति सदभाव और उनके प्रति सम्मान की भावना पैदा करना जरूरी है। रामबली, डंगरी, लक्ष्मीना, उषा, दिनेश, कमलेश, लाल बहादुर आदि लोग मौजूद थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस