जासं, पीडीडीयू नगर (चंदौली) : संविधान दिवस के अवसर पर मंगलवार को यूरोपियन कालोनी स्थित मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय से रैली निकाली गई। रैली को डीआरएम पंकज सक्सेना ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। स्काउट-गाइड के छात्र के साथ निकली रैली कालोनी का भ्रमण करने के बाद कार्यालय परिसर में समाप्त हुई। डीआरएम ने अधिकारियों व कर्मचारियों को राष्ट्र की एकता और अखंडता बनाए रखने और अपने जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में संविधान के प्रस्तावना के प्रति निष्ठावान व समर्पित रहने की शपथ दिलाई। मौलिक अधिकारों व कर्तव्यों के प्रति जागरूक किया।

कहा कि 26 नवंबर 1949 को भारत की संविधान सभा द्वारा भारत के संविधान को अंगीकृत किया गया था, जो 26 जनवरी 1950 से पूर्णत: प्रभावी हुआ। भारतीय संविधान विश्व का सबसे बड़ा संविधान है। इसकी रक्षा करना हम भारतीयों का परम कर्तव्य है। डा. आंबेडकर ने जीवन पर्यंत समाज में व्याप्त अस्पृश्यता, छुआछूत, जात-पात व ऊंच-नीच जैसी कुरीतियों को दूर करने का प्रयास किया। मुगलसराय मंडल के गया, डेहरी-आन सोन आदि स्टेशनों पर भी भारत के संविधान के प्रस्तावना को पढ़कर उसके प्रति निष्ठावान एवं समर्पित रहने की शपथ अधिकारियों व कर्मचारियों ने ली। एडीआरएम प्रथम एसके वर्मा, एडीआरएम द्वितीय अतुल कुमार, सीनियर डीसीएम रूपेश कुमार, आरपीएफ कमांडेंट आशीष मिश्रा, सीनियर डीपीओ अजीत कुमार, सीनियर डीओएम राकेश रौशन, सीनियर डीएमई श्रवण कुमार आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस