जासं, सकलडीहा (चन्दौली) : दैनिक जागरण के 22 अप्रैल के अंक में छपी खबर को संज्ञान में लेते हुए जिला मुख्य पशु चिकित्साधिकारी व बीडीओ ने मंगलवार को लेहरा और जमालपुर स्थित गौशाला का निरीक्षण किया। पशुओं के रख-रखाव में लापरवाही पर एडीओ पंचायत और पशु चिकित्साधिकारी को कार्रवाई की चेतावनी दी।

जनपद के 17 गौशालाओं में वर्तमान समय में 780 पशुओं की देख-रेख की जा रही है। उनके रख-रखाव, चारा और स्वास्थ्य की व्यवस्था को लेकर संबंधित पंचायत और पशु चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया गया है। सीएम के आदेश के बावजूद जनपद में अस्थायी गौशालाओं की व्यवस्था बेपटरी है। शेड व खुराक के अभाव में चिलचिलाती धूप में पशुओं की हालत खराब है। सूखे पुआल को खाकर ज्यादातर पशु मरणासन्न हो चले हैं। व्यवस्था की बागडोर जिन सफाई कर्मियों के हाथों में सौंपी गई है। वे मौके पर कभी नहीं दिखते। 22 अप्रैल को जागरण ने प्रमुखता से खबर प्रकाशित की थी। खबर का असर रहा कि जिला पशु चिकित्साधिकारी डा. एसपी पांडेय और बीडीओ गुलाब चन्द्र सोनकर ने संबंधित अधिकारियों के साथ गौशाला का निरीक्षण किया। आधे-अधूरे निर्माण को शीघ्र पूरा कराने का निर्देश दिया। इसके साथ ही चारा की अग्रिम व्यवस्था बनाये रखने की हिदायत दी। बताया कि धन की कमी नहीं है। यदि व्यवस्था के अभाव में पशुओं की मौत हुई तो सम्बन्धित अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। एडीओ पंचायत विजय लाल, पशु चिकित्साधिकारी एके वैश्य, ग्राम पंचायत अधिकारी मनोज सिंह, प्रिया मौर्य, आलोक पांडेय, ग्राम प्रधान बलवंत यादव, रामप्यारे आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप