जागरण संवाददाता, पीडीडीयू नगर (चंदौली): पूर्व मध्य रेलवे हाजीपुर जोन के महाप्रबंधक ललितचंद्र त्रिवेदी ने बुधवार को ईस्टर्न डेटीकेटेड फ्रेट

कारिडोर की ओर से चल रहे कार्यों की प्रगति देखी। वे शेरा यान से डीआरएम राजेश कुमार पांडेय व डीएफसीसी महाप्रबंधक अजीत मिश्रा के साथ आए। गंजख्वाजा-पीडीडीयू जंक्शन-जीवनाथपुर रेल खंड पर चल रहे निर्माण कार्यों का जायजा लिया। डीआरएम कार्यालय के कंट्रोल रूम में रीयल टाइम यार्ड सिमुलेशन व्यू सिस्टम व परिसर में बने डिजिटल नोटिस बोर्ड का शुभारंभ किया। जंक्शन के पास बने रही आरआरआइ (रूट रिले इंटरलाकिग) भवन को समय में पूरा कराने का निर्देश दिया। सुबह 10.30 बजे जीएम ने जंक्शन कें सेंट्रल यार्ड लाइन नंबर एक से निरीक्षण शुरु किया। उन्होंने वाराणसी में चल रहे कार्यों का भी जायजा लिया। मंडल के कल कारखानों को देखने के बाद जहां खामियां मिलीं, उसे तत्काल दुरुस्त करने का निर्देश दिया। एडीआरएम प्रथम राकेश रोशन, एडीआरएम द्वितीय अतुल कुमार, सीनियर डीसीएम रूपेश कुमार, कमांडेंट आशीष मिश्रा, सीनियर डीओएम सुधांशु रंजन, सीनियर डीएमई गौरव कुमार, सीनियर डीईएन कोआर्डिनेश अशोक कुमार, सीनियर डीपीओ अजीत कुमार, डीसीएम इकबाल अहमद, सीनियर डीएसटी बीके यादव, डीएन हेडक्वार्टर पुरुषोत्तम तिवारी, सीनियर डी टीआरडी ओपी सिंह यादव शामिल रहे। ---------------------

दिसंबर तक पूरा होगा यार्ड का काम

मंडल के गंजख्वाजा के यार्ड में चल रहे डीएफसीसी का काम मार्च तक पूरा हो जाएगा। हालांकि तीन चरणों में होने वाले काम को पूरा करने में दिसंबर तक का समय है। पहले चरण में पूर्वी छोर में कनेक्शन लिया जाएगा। दूसरे चरण में केबिन के पास कनेक्शन लेने का काम होगा। तीसरे चरण का काम डीएफसीसी व इंडियन रेलवे साथ मिलकर करेंगी। अंत में पूरे यार्ड का काम पूरा होगा। डीएफसीसी भारत पेट्रोलियम की रैक का कार्य भी देखेगी। -----------------

49 लेवल क्रासिग को हटाएगी डीएफसीसी

डेटीकेटेड फ्रेट कारिडोर अपने कार्य में किसी तरह का रोड़ा आने नहीं देगी। मुगलसराय व सोननगर तक 137 किलोमीटर डीएफसीसी लाइन की 49 लेवल क्रासिग है। इसमें 42 रोड ओवरब्रिज और सात अंडर पास हैं। जल्द ही इसको हटाकर तीसरी लाइन को सुरक्षित कर लिया जाएगा। -------------------

सोन नदी पर तीन किमी लंबा पुल तैयार

डीएफसीसी ने सोन नदी पर तीन किमी लंबा पुल बनकर तैयार हो गया है। यह पुल एक बड़ी परियोजना थी। इसके बन जाने से मालगाड़ियों के परिचालन में दिक्कत नहीं आ रही है। सोननगर में फ्लाई ओवर बन गया है। वहीं गंजख्वाजा में बने रहे फ्लाई ओवर का काम युद्धस्तर पर चल रहा है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप