जासं, चकिया (चंदौली) : टेल पर लटांव, नौडिहा, विशुनपुरा समेत दर्जनों गांवों के खेत में रोपी गई धान की फसल पानी के अभाव में सूख रही है। लेफ्ट कर्मनाशा नहर से छोड़े जाने वाले पानी की क्षमता बढ़ाने की मांग सोमवार को सिचाई विभाग से मिलकर किसानों ने की। किसान विकास मंच के अध्यक्ष जयराम सिंह के नेतृत्व में किसानों का समूह सिचाई विभाग कार्यालय पर पहुंचा। दफ्तर में किसी अभियंता के नहीं रहने से किसान आक्रोशित हो गए और हंगामा पर आमादा हो गए। सूचना मिलते ही सहायक अभियंता आलोक कुमार पहुंचे आक्रोशित किसानों की समस्या सुन निदान का भरोसा दिलाया। सहायक अभियंता ने कहा कि फिलहाल नहर से साढ़े पांच फीट पानी छोड़ा जा रहा है। मंगलवार से एक फीट अधिक पानी छोड़े जाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। इस आश्वासन पर किसान शांत हुए। चेताया कि चार दिनों में टेल तक पानी नहीं पहुंचा तो किसान विकास मंच धरने पर बैठने को विवश होंगे। राम अवध सिंह, रामप्रवेश यादव, रामदुलार यादव, रिकू सिंह, रवींद्र तिवारी, गणेश यादव, संजय पाठक आदि किसान शामिल थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप