जासं, चंदौली : क्रय केंद्र पर अनाज बेचने के बाद भुगतान के लिए किसानों से पैसे की डिमांड की जा रही है। सदर तहसील के देवकली गांव में खोले गए नैकाफ के क्रय केंद्र पर मेहनत की कमाई बेचने के बाद पैसे के लिए अन्नदाता अब दफ्तरों के चक्कर काटने को विवश हैं। थक-हारकर अंतत: किसानों ने सोमवार को कलेक्ट्रेट में डीएम से गुहार लगाई। डीएम ने डिप्टी आरएमओ से जांच कर केंद्र प्रभारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का निर्देश दिया। साथ ही शीघ्र भुगतान कराने का भरोसा दिलाया।

सदर तहसील के देवकली गांव में नैकाफ एजेंसी की ओर से गेंहू क्रय केंद्र खोला गया है। यहां सैकड़ों किसानों से गेंहू की खरीद की गई है। किसानों का आरोप है कि क्रय के दौरान एक किलोग्राम प्रति कुंतल के हिसाब से कटौती की गई। वहीं अब भुगतान के बदले केंद्र प्रभारी की ओर से सुविधा शुल्क की मांग की जा रही है। पिपरी निवासी लाल बहादुर राय, गायत्री देवी, लक्ष्मी नारायण राय, हरिओम नारायण राय, परमानंद राय ने डीएम से मिलकर केंद्र प्रभारी मनोज त्रिपाठी के खिलाफ शिकायत की। आरोप लगाया कि केंद्र प्रभारी की ओर से बिना सुविधा शुल्क दिए भुगतान न कराने की धमकी दी जा रही है। वहीं खरीद के दौरान भी मनमाने ढंग से अनाज की कटौती की गई। जिलाधिकारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए डिप्टी आरएमओ को जांच करने का निर्देश दिया। कहा भ्रष्टाचार में लिप्त पाए जाने पर केंद्र प्रभारी के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। उन्होंने दो दिनों के अंदर भुगतान कराने का भरोसा दिलाया।

वर्जन :

नैकाफ क्रय एजेंसी प्रभारी के खिलाफ शिकायत मिली है। जिलाधिकारी की ओर से मामले की जांच कर कार्रवाई का निर्देश दिया गया है। प्रकरण की निष्पक्ष जांच और किसानों का बयान दर्ज कर डीएम को रिपोर्ट सौंपी जाएगी। उनके निर्देशानुसार आगे कार्रवाई होगी।

अनूप श्रीवास्तव, डिप्टी आरएमओ

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप