जासं, चकिया (चंदौली): अपर पुलिस अधीक्षक (नक्सल) वीरेंद्र कुमार ने सोमवार को स्थानीय कोतवाली में सर्किल के चौकी व थाना प्रभारियों की बैठक ली। अपराध की समीक्षा व अपराधियों के बाबत जानकारी ली। विवेचनाओं के निस्तारण में तेजी लाने के निर्देश दिए।

कहा अपराधियों पर कड़ी नजर रखी जाए। महिलाओं की शिकायत का संज्ञान लें और त्वरित कार्रवाई करें। विवेचना को वेबजह न लटकाएं। लापरवाही पर कार्रवाई होगी। कोतवाली से संबंधित रामपुर, भभौरा चौकी प्रभारी भूपेश कुशवाहा के यहां विवेचना लंबित होने पर नाराजगी जताई। एएसपी ने बारी-बारी से बबुरी, इलिया, शहाबगंज, चकिया के थाना प्रभारी व संबंधित चौकी प्रभारियों को अभिलेखों के साथ तलब कर कार्यों की समीक्षा की। विवेचना कार्य में ढिलाई बरते जाने पर नाराजगी जताई। कहा कई प्रकरण लंबित होने से आरोपितों को कोर्ट से सजा दिलाने में विलंब हो रहा। पशु तस्करी पर रोक लगाने के कड़े निर्देश देते हुए कहा पशुओं की खरीद फरोख्त करने वालों पर कड़ी नजर रखी जाय। साथ ही पशु तस्करी होने की शिकायत मिली तो संबंधित थाना प्रभारी के विरुद्ध कार्रवाई होगी। एंटी रोमियो अभियान के बाबत जानकारी ली, कहा महाविद्यालय सहित छात्राओं के स्कूल के आसपास मजनुओं के खिलाफ अभियान चलाएं। फरियादियों के साथ मित्रवत व्यवहार करते हुए उनकी समस्याओं को गंभीरतापूर्वक सुन समय से निजात दिलाएं। नक्सल प्रभावित थाना व चौकियों पर विशेष निगरानी बरतें। कोतवाल रहमतुल्लाह खान, बबुरी एनएन सिंह, शहाबगंज एसओ एके राय, इलिया मिथिलेश तिवारी, एसएसआइ राणा प्रताप सिंह, कपिलदेव यादव आदि थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस