शामली, जागरण टीम। जिले में 37 बूथों पर मंगलवार को टीकाकरण हुआ और 2032 लोगों ने वैक्सीन लगवाई। लक्ष्य के सापेक्ष 57.91 फीसद टीकाकरण हुआ है। 45 वर्ष से अधिक आयु वालों के लिए वैक्सीन की कमी हो गई है और ऐसे में बूथ की संख्या कम की गई है।

18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए 19 बूथ रहे। दो हजार लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य था और 1323 ने वैक्सीन लगवाई। जिला संयुक्त अस्पताल और पीएचसी जसाला में महिला स्पेशल बूथ रहे। उक्त केंद्रों पर 200 के लक्ष्य के सापेक्ष 88 महिलाओं को टीका लगाया गया। दरअसल, महिलाओं का टीकाकरण इसलिए भी कम हो रहा है, क्योंकि कोविन पोर्टल पर काफी पुरुष पंजीकरण स्लाट बुक करा लेते हैं। जब बूथ पर पहुंचते हैं तो वापस लौटना पड़ता है और उनके स्थान पर किसी महिला को भी टीका नहीं लग पाता है। उक्त उम्र वर्ग में लक्ष्य के सापेक्ष 66.15 फीसद टीकाकरण हुआ और 133 वायल का प्रयोग हुआ। 45 वर्ष से अधिक आयु वालों के लिए भी 18 बूथ रहे और 1700 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य था। 709 लोंगों को वैक्सीन लगी। 599 लोगों ने पहली और 110 लोगों ने दूसरी डोज लगवाई। लक्ष्य के सापेक्ष 41.71 फीसद टीकाकरण हुआ और 71 वायल खर्च हुईं। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. राजकुमार सागर ने बताया कि सभी से अपील है कि महिला स्पेशल बूथ पर स्लाट पुरुष बुक न करें। 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लिए अब कम ही वैक्सीन बची हैं। हालांकि गुरुवार शाम तक वैक्सीन मिल सकती है। ऐसे में गुरुवार के लिए आठ बूथ बनाए गए हैं। 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए 21 बूथ रहेंगे।

Edited By: Jagran