बुलंदशहर, जेएनएन। जनपदवासियों के लिए अच्छी खबर है। जिला गुरुवार को एक मरीज के स्वस्थ होने से कोरोना मुक्त हो गया है लेकिन संभावित तीसरी लहर से बचने के लिए कोविड प्रोटोकाल का पालन करना होगा।

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ने के कारण अस्पतालों में बेड और आक्सीजन की किल्लत जिले के लोगों को झेलनी पड़ी थी लेकिन लोगों की समझदारी और जागरूकता से जिला कोरोना मुक्त हो गया है। दूसरी लहर में 31 अगस्त को जनपद कोरोना मुक्त हो गया था लेकिन दो सितंबर को खुर्जा में एक व्यक्ति में संक्रमण की पुष्टि होने पर जिला में एक एक्टिव केस हो गया था। हालांकि दो सितंबर से अब तक दो बार जनपद कोरोना मुक्त हो चुका है। गुरुवार को एक मरीज के स्वस्थ्य होने से जिला एक बार फिर कोरोना मुक्त हो गया है। जिले में अब तक 20215 लोगों में कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। जिनमें से 19973 मरीज कोरोना से जंग जीत कर स्वस्थ हो चुके हैं। 242 लोगों की मौत हो चुकी है। जनपद के पूरी तरह से कोरोना मुक्त होने के बाद जिला प्रशासन ने लोगों ने राहत की सांस ली है। कोरोना की संभावित तीसरी लहर को सावधानी बरतनी होगी। कोविड प्रोटोकाल का पालन करना होगा। लापरवाही बरतना खतरनाक साबित हो सकता है। घर से बाहर निकलते समय मास्क का प्रयोग करें और दूसरों को प्रेरित करें। कोविड प्रोटोकाल के पालन के साथ ही संभावित तीसरी लहर से बचा जा सकता है।

इन्होंने कहा..

जनपद कोरोना मुक्त हो गया है लेकिन संक्रमण का खतरा अभी टला नहीं हैं। घर से बाहर निकलते समय मास्क का प्रयोग करें। कोरोना प्रोटोकाल का पालन करें।

-डा. विनय कुमार सिंह, सीएमओ

Edited By: Jagran