बुलंदशहर, जेएनएन। रविवार से जिले में मतदाता सत्यापन कार्यक्रम शुरू हो गया। इस कार्यक्रम के तहत डीएम रविद्र कुमार बूथों के निरीक्षण को निकले। मऊखेड़ा के प्राथमिक विद्यालय के मुख्य गेट पर ताला लगा मिला। डीएम ने बूथ के बीएलओ से पूछताछ की। बीएलओ ने बताया कि कई बार चक्कर लगाने के बाद भी विद्यालय का ताला नहीं खुला और न ही प्रधानाध्यापक पूनम सिंह ने चाबी दी। डीएम ने नाराजगी जताते हुए प्रधानाध्यापक को निलंबित करने के आदेश दिए हैं। साथ ही बीएसए के निर्देश दिए हैं कि इस कार्यक्रम में जो भी शिक्षक लापरवाही करें, उनकी रिपोर्ट कार्यालय भेजकर तत्काल कार्रवाई की जाए। इसके लिए उन्होंने संबंधित बीईओ के खिलाफ भी कार्रवाई की चेतावनी दी है।

भारतीय संविधान ने दी वोट की ताकत: डीएम

डीएम ने शहर के डीएवी पीजी कालेज में फीता काटकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम को संबोधित करते उन्होंने कहा कि वोट ही एक ऐसा साधन है, जो अपना अधिकार देता है। भारतीय संविधान ने बहुत से अधिकार प्रदान किए हैं। इनमें मतदान का अधिकार विशेष अधिकार है।

आनलाइन कर सकते हैं आवेदन

डीएम ने वोट बनवाने, कटवाने व त्रुटि सही कराने की जानकारी भी दी। कहा कि नई तकनीक विकसित होने से किसी व्यक्ति का अनावश्यक वोट नहीं काटा जा सकता है। गड़बड़ी होने पर कोई भी पता लगा सकता है। वोट बनवाने, कटवाने व त्रुटि सही कराने के लिए अलग-अलग फार्म आते हैं। आनलाइन आवेदन करके मतदाता सूची में अपना नाम शामिल करा सकते हैं। इसके बाद सात अक्तूबर तक दावे व आपत्तियां लेकर सुनाई की जाएगी। प्राचार्य डा. रेनु अग्रवाल, डा. इंदु शर्मा, डा. वाईसी यादव, डा. नवीश कुमार, मिलेदार राम व बबीता आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस