बुलंदशहर, जेएनएन। गुलावठी के शफाखाना चौक के पास विश्व शांति परिषद की एक बैठक हुई, जिसमें गोकशी की बढ़ती घटना पर मुस्लिम समाज के लोगों ने विरोध जताते हुए गोकशी करने वाले लोगों का सामाजिक बहिष्कार करने का निर्णय लिया। साथ ही देश के वर्तमान हालातों पर चर्चा करते हुए लोगों से शांति व सौहार्द बनाए रखने की अपील की।

विश्व शांति परिषद के प्रदेश सचिव सिराज मेवाती ने कहा कि गोकशों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए, जिससे गोकशी की घटना पर अंकुश लग सके। उन्होंने लोगों से अफवाह पर ध्यान न देकर शांति व्यवस्था कायम रखने की अपील की। कहा कि असामाजिक तत्व कस्बे का माहौल खराब करने में लगे हुए है। लोकतंत्र रक्षक सेनानी एवं पूर्व प्रधानाचार्य नरेश चंद गुप्त ने कहा कि सीएए को लेकर विपक्षी दल लोगों में भ्रम फैलाने का काम कर रहे इसलिए लोग उनके बहकावे में न आए। इससे पूर्व कारी अंसार, डा. रियाजुद्दीन, शब्बन फुरकान सुल्तानी, राहुल तोमर, इसरार सिद्दीकी, हाजी अबरार, चांद मलिक, आलम मलिक आदि वक्ताओं ने भी अपने विचार रखे। अध्यक्षता मास्टर शब्बीर ने तथा संचालन शब्बन फुरकान सुल्तानी ने किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस