बुलंदशहर, जेएनएन। पहले की सभी जमीन बेचने के बावजूद उसमें कुछ बीघा खेती की जमीन का ग्रामीण को बैनामा करके 9.62 लाख की धनराशि हड़पने का मामला प्रकाश में आया है। पीड़ित की शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने अधिकारियों के हस्तक्षेप व घटना स्थल के आधार पर आरोपित के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।

गांव झाझर निवासी विजयपाल पुत्र लौहरे ने बताया कि गत तीन जुलाई को उसने गांव के राजेन्द्र पुत्र बिशन से उसकी खेती के दो बीघा जमीन का सौदा किया था। सौदा तय होने के बाद आरोपित ने नौ लाख बासठ हजार की रकम ले ली और सिकंदराबाद रजिस्ट्री आफिस में बैनामा कर दिया। डेढ माह बाद वह लेखपाल से उक्त जमीन की खसरा खतौनी निकवाने पहुंचा तो पता चला कि आरोपित ने सात वर्ष पहले ही अपनी सभी खेती की जमीन का सौदा चौकी गांव निवासी शंकुलता देवी पत्नी श्रीपाल को किया हुआ है। जब इस संबंध में उसने आरोपित से जानकारी मांगी, तो वह बरगलाने लगा। सभी स्थिति अवगत कराने के बाद उसने दी गई रकम लौटने की बात कही। लेकिन रकम नहीं लौटाई। गत 25 नवंबर को सख्त तगादा करने पर आरोपित ने रकम लौटने से इंकार करते हुए दोबारा आने पर धमकी दी। जिसके बाद पीड़ित ने ककोड़ थाने में तहरीर दी। लेकिन घटना क्षेत्र सिकंदराबाद रजिस्ट्री कार्यालय होने पर पीड़ित की रिपोर्ट दर्ज नहीं हो सकी। अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद सिकंदराबाद कोतवाली पुलिस ने पीड़ित की तहरीर पर आरोपित राजेन्द्र पुत्र बिशन के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Edited By: Jagran